नियमों को ताक पर रखकर रोज सजता है RIMS में लालू का दरबार

नियमों को ताक पर रखकर रोज सजता है RIMS में लालू का दरबार

NEWS TODAY रांची :: “जिसकी लाठी उसकी भैंस” निम्न लोकोक्ति झारखण्ड में नई सरकार बनते ही चरितार्थ होती दिखती हैl आपको बता दें कि, झारखंड में गठबंधन की सरकार बनते ही लालू प्रसाद यादव अपने पुराने अंदाज में नजर आने लगे हैl तभी तो आए दिन रिम्स में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव का दरबार सजने लगा है।

गौरतलब है कि, चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव बीमार होने की वजह से रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती हैं। पर आए दिन यहाँ राजनितिक पर विचार विमर्श का खेल चलता रहता हैl आलम ये है कि, लालू प्रसाद यादव के जनता दरबार लगाने पर जेल प्रशासन की भी मौन सहमति है, क्योंकि जेल प्रशासन की अनुमति के बगैर कोई भी लालू से नहीं मिल सकता है।आपको बता दें कि,रिम्स के पेइंग वार्ड में सुरक्षा में तैनात पुलिस को भी जेल प्रशासन से अनुमति लेकर आने वाले को ही मिलवाने का आदेश है। पर इसे ताक पर रखकर पुलिस के नाक के निचे से दर्जनभर लोग हर दिन लालू से मिलने वहां पहुंच रहे हैंl

अगर लालू की सुरक्षा की बात करे तो जिस तरह लालू प्रसाद तक लोग खाने-पीने का सामान लेकर खुद भी पहुंच जा रहे हैं, इससे लालू की सुरक्षा भी खतरे में है। जेल मैनुअल के अनुसार किसी भी बंदी को कोई भी बाहरी व्यक्ति खाने-पीने का सामान नहीं दे सकता हैl इतना ही नहीं, लालू जहां खुले में बैठते हैं, वहां तक अपराधी भी आसानी से पहुंचकर उन्हें नुकसान पहुंचा सकता है। जेल प्रशासन लालू प्रसाद की सुरक्षा के साथ भी खिलवाड़ कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here