• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

नक्सलियों ने दी ट्रेन उड़ाने की धमकी, रेलवे विभाग अलर्ट मोड पर।

1 min read

जमशेदपुर।

नक्सलियों ने दी ट्रेन उड़ाने की धमकी, रेलवे विभाग अलर्ट मोड पर।

जमशेदपुर। हावड़ा-मुंबई गीतांजलि एक्सप्रेस को उड़ाने की धमकी नक्सलियों द्वारा दी गयी है। बताते चलें कि नक्सलियों ने सीनी-खरसावां स्टेशन के बीच उक्त ट्रेन को उड़ाने की धमकी दी है। यही नहीं घटना को अंजाम देने के लिए 20 की संख्या में महिला पुरुष नक्सलियों का जत्था इस इलाके में आ गया है। बताते चलें कि नक्सलियों के मुताबिक 11 अक्टूबर तक कभी भी उक्त घटना को अंजाम दिया जा सकता है। बता दें कि नक्सलियों द्वारा दी गई इस धमकी के बाद खुफिया विभाग ने रेलवे को अलर्ट किया है। खुफिया विभाग की रिपोर्ट पर चक्रधरपुर रेल मंडल के अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं घटना को लेकर एहतियात बरतते हुए आरपीएफ, जीआरपी और जिला पुलिस संयुक्त रूप से गीतांजलि एक्सप्रेस और उस मार्ग में गुजरने वाली अन्य ट्रेनों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। चक्रधरपुर रेल मंडल के अंतर्गत सीनी और खरसावां के बीच ट्रेनों को नियंत्रित कर चलाया जा रहा है। वहीं आपको बताते चलें कि चक्रधरपुर रेल मंडल के सीनियर आरपीएफ कमांडेंट डीके मौर्य ने चक्रधरपुर के सीनियर DOM, SR DEN ( कोऑर्डिनेटर) और सीनियर DEE(OP) को पत्र लिखकर कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं। पत्र में स्पष्ट कहा गया है कि महेश्वर मोहाली, रंजीत मोहाली और शानी नामक नक्सलियों ने गीतांजलि एक्सप्रेस को सीनी-खरसावां सेक्शन के महालीमुरूप स्टेशन के पास दुर्घटनाग्रस्त कराने की योजना बनाई है। इसके लिए झींकपानी,कुचाई और खरसावां से 20 की संख्या में पुरूष और महिला नक्सली पहुंच चुके हैं। यह लोग 8 अक्टूबर से 11 अक्टूबर के बीच किसी भी दिन पटरी को ब्लास्ट करके गीतांजलि एक्सप्रेस को दुर्घटनाग्रस्त कर सकते हैं। बताते चलें कि घटना के मद्देनजर सीनियर और सहायक लोको पायलट को भी ड्यूटी पर सावधान रहने का सुझाव दिया गया है। गीतांजलि एक्सप्रेस के आगे मालगाड़ी या पायलट इंजन दौड़ाने का पत्र परिचालन विभाग को मिला है।

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.