• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

धनबाद : हत्याकांड का खुलासा – अवैध सम्बन्ध में हुई थी हत्या ,पत्नी के साथ अंतरंग अवस्था मे देख आरोपी ने दिया था गला काट कर घटना को अंजाम…

1 min read

NEWSTODAYJ : धनबाद कतरास थाना क्षेत्र के राजबाड़ी केवट टोला के रहने वाले संजय केवट की कुछ दिनो पहले गला रेतकर हत्या मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है।मामले में  पुलिस ने सुनील केवट और महावीर केवट को गिरफ्तार किया है। दोनों आपस मे भाई है. इन्होंने इस हत्या में अपनी संलिप्ता भी स्वीकार की है।

यह भी पढ़े…

धनबाद :  नौकरी के लालच में युवक ने अपने ही दादा का हत्या करवाया , निशाना देही पर हो रही जांच…

हत्याकांड का उदभेदन  करते ग्रामीण एसपी अमित रेणु ने बताया कि  हत्या का मुख्य कारण मृतक संजय केवट और पास के रहने वाले सुनील केवट के पत्नी के साथ अवैध संबंध होने का शक था मृतक संजय केवट व सुनील के पत्नी में अक्सर बातचीत होती थी। सुनील केवट को दोनों में अवैध संबंध होने का शक था।इस बात को लेकर दोनों में पहले भी झगड़ा हुआ था।घटना की रात सुनील मछली मारने गया था जब घर लौटा तो देखा कि उसकी पत्नी और संजय एक हीं कमरे में अंतरंग  थें । सुनील ने यह देखकर घर का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया. फिर अपने छोटे भाई महावीर केवट को बुलाया और संजय को अपने कब्जे में लेकर मुंह मे कपड़ा ठूंसा और हाथ बांधकर झाड़ियों में ले जाकर उसका गला रेत कर हत्या कर दिया।

यह भी पढ़े…

जमीन विवाद में चली थी गोली देसी कट्टा और एक मैगजीन के साथ अपराधी गिरफ्तार…

इस दौरान उसकी पत्नी घर मे ही बंद थी और विरोध कर रही थी. सुनील कांड कर घर लौटा और पत्नी को चुप रहने को कहा।शुरुआती पूछताछ में सुनील ने विरोधाभासी बयान दिया  लेकिन कई बार कड़ाई से पूछने पर वह टूट गया और हत्या में अपनी संलिप्ता स्वीकार की।कांड की जांच के लिए अनुमंडल  पुलिस पदाधिकारी बाघमारा नितिन खण्डेलवाल के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.