धनबाद में टाटा जामाडोबा क्षेत्र में कोरोना विस्फोट के बाद टाटा जामाडोबा डीएवी स्कूल क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील

धनबाद में टाटा जामाडोबा क्षेत्र में कोरोना विस्फोट के बाद टाटा जामाडोबा डीएवी स्कूल क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील

NEWSTODAYJ  धनबाद के झरिया स्थित टाटा जामाडोबा क्षेत्र में कोरोना विस्फोट होने के बाद अब टाटा प्रबंधन ने टाटा जामाडोबा डीएवी स्कूल को क्वारंटाइन सेंटर बनाने का निर्णय लिया है। टाटा जामाडोबा स्कूल के प्राचार्य पीके मिश्रा ने रविवार को इसके लिए सभी शिक्षकों और कर्मियों को नोटिस जारी कर इसकी सुचना दे दी है। साथ ही कहा है कि शिक्षक अपने घर से ही ऑनलाइन क्लास लें। इधर स्कूल को क्वारंटाइन सेंटर बनाए जाने से आसपास के लोग दहशत में हैं।

ये भी पढ़े…

रविवार को 23 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के साथ झारखण्ड का आंकड़ा 2384

स्थानीय लोगों का कहना है कि घनी आबादी के बीच क्वारंटाइन सेंटर नहीं बनना चाहिए। इससे संक्रमण फैलने का खतरा है। बता दें कि टाटा प्रबंधन ने अब तक 82 लोगों को क्वारंटाइन किया है और 200 लोगों की सूची तैयार की गई है। जमशेदपुर से टीम चयनित 200 लोगों का स्वाब का सैंपल लेने में लगी हुई है। इसके अलावा संक्रमित लोगों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री तैयार की जा रही है। आशंका जताई जा रही है कि क्वारंटाइन में काफी अधिक लोग रखे जाएंगे। जिसके लिए स्कूल को क्वारंटाइन सेंटर बनाया जा रहा है। फिलहाल गेस्ट हाउस और क्लब को क्वारंटाइन सेंटर के रूप में तब्दील किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here