धनबाद : पीपीई कीट 12 घण्टे पहनकर मेडिकल कार्य करने में दिक्कत होती है, सुरक्षा व बीमा का गारंटी देने की मांग…

0
[URIS id=45547]

NEWSTODAYJ धनबाद : बीमा और पुख्ता सुरक्षा इंतेजाम के बिना जामाडोबा अस्पताल में कोविड ड्यूटी में लगाये जाने के विरोध में अनुबंधित नर्स, आया व सफाईकर्मियों शुक्रवार को काफी जोरदार हंगामा किया है । इन कर्मियों ने मुख्यमंत्री व उपायुक्त को पत्र व ट्वीट कर शिकायत की है।बताते हैं.

यह भी पढ़े…

अपराधियों ने चाकू मारकर 70 हजार समेत मोबाइल लूट का अंजाम देने वाली अपराधियों की हुई गिफ्तारी…

कि केंद्रीय अस्पताल धनबाद में कोविड मरीजों की संख्या बढ़ जाने के कारण टाटा की जामाडोबा अस्पताल को कोविड अस्पताल बनाया गया है। इस पर कोविड ड्यूटी पर लगाये गए कर्मियों का आरोप है कि टाटा अस्पताल प्रबंधन उनसे 12 घण्टा काम करने का दबाव बना रही है साथ ही एक पाली में सिर्फ एक नर्स का ड्यूटी लगाया जा रहा है। इन कर्मियों का कहना है कि जिस पीपीई किट को पहनकर 2 घंटा रहना मुश्किल होता है उस किट को पहनकर सिर्फ एक कर्मी से 12 घण्टे काम करने के लिए बोलना अमानवीय है।कर्मियों का मांग है कि कोविड ड्यूटी का समय अधिकतम 6 घण्टे की हो साथ ही सभी का 50-50 लाख का बीमा करवाया जाए,

यह भी पढ़े…

धनबाद : महिला की हत्या मामले में पुलिस ने 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार मुख्य सरगना फरार…

हर पाली में दो नर्स और एक डॉक्टर की तैनाती हो साथ ही उन्हें नियमित ओआरएस आदि मुहैया कराया जाए।बताते हैं कि टाटा स्टील की झरिया डिवीजन स्थित सेंट्रल अस्पताल में जमशेदपुर की रंस्टेड कम्पनी के माध्यम से अनुबंध के आधार पर नर्स, आया और सफाई कर्मी बहाल किये जाते है। इनका कोई यूनियन नहीं होने से इस तरह के मामले में इनके तरफ से कोई आवाज उठाने वाला नहीं होता। मजबूरन इन्हें ट्विटर के सहारा लेना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here