धनबाद जेल के जेलर ने बाघमारा विधायक ढुलू महतो और शूटर अमन सिंह के बीच झड़प की बात को बताया अफवाह

[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

धनबाद जेल के जेलर ने बाघमारा विधायक ढुलू महतो और शूटर अमन सिंह के बीच झड़प की बात को बताया अफवाह

NEWSTODAY– धनबाद जेल में बंद विधायक ढुलू महतो और अमन सिंह के बीच झड़प होने की खबर है। हालांकि इस बात से जेलर ने साफ़ इन्कार किया हैl उन्हें इसे सिर्फ एक अफवाह करार दिया है। विधायक जेल के अंदर सेल में हैं। उनतक कोई नहीं पहुंच सकता है। बताते चले कि बाघमारा के विधायक ढुलू महतो के करीबी अभिजीत बार के मालिक अभय सिंह के घर पर फायरिंग के मामले में अभय सिंह की पत्नी ने शूटर अमन सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसी के बाद ये खबर सामने आ रही है कि धनबाद जेल में ही विधायक ढुलू महतो और अमन सिंह के बीच झड़प हुई है। आपको बता दें की ये वहीँ अमन सिंह है जो धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की हत्या में आरोपित हैl

ये भी पढ़े…

गुजरात सरकार का अभिभावकों के लिए बड़ा फैसला- स्कूल शुरू होने तक अभिभावकों से फीस नहीं ले सकते स्कूल

बता दें कि मंगलवार की रात रानीबाजार निवासी विधायक ढुलू महतो के करीबी अभिजीत बार के मालिक अभय सिंह के घर पर हुई गोली चलने की घटना में पुलिस ने कांड अंकित कर तहकीकात शुरू कर दी है। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे को खंगाला। कैमरे में कैद अपराधियों की तस्वीर के जरिये पुलिस दोषी तक पहुंचना चाह रही है। वहीँ अभय सिंह की पत्नी की लिखित सूचना पर अमन सिंह, शेरबहादुर सिंह और बुचन को आरोपित बनाया गया है। शिकायत में संदेह जताया गया है कि अमन के इशारे पर शेरबहादुर और बुचन ने गोली चालन की घटना को अंजाम दिया।

ये भी पढ़े…

TRANSFER-सत्येंद्र कुमार बने धनबाद के नए नगर आयुक्त-तीसरी बार धनबाद में पदस्थापित- दशरथ चंद्र दास बने धनबाद के नए डीसीसी

सूत्रों के अनुसार अमन सिंह पर प्राथमिकी दर्ज होने के बाद जेल का माहौल गर्म हो गया। अपने आधा दर्जन से ज्यादा साथियों के साथ धनबाद जेल में नीरज सिंह हत्या कांड में  बंद है। संयोग से विधायक भी जेल में बंद हैं। विवाद का कारण अमन सिंह पर कतरास में थाना प्राथमिकी दर्ज होना बताया जा रहा है। अमन मानकर चल रहा है कि विधायक ढुलू के इशारे पर ही उनके समर्थक की पत्नी ने  प्राथमिकी दर्ज कराई। बस इसी को लेकर अमन और उनके समर्थक भाजपा विधायक के सेल के पास पहुंच गए। विधायक भी बाहर निकले। दोनों तरफ से बहस और झड़प हुई। झरिया के पूर्व विधायक संजीव सिंह के समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया। संजीव भी नीरज हत्याकांड में धनबाद जेल में बंद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here