देवघर में सावन की पहली सोमवारी पर मंदिर का पट 4 बजे सुबह खोला गया ,परंपरागत रूप से पूजा अर्चना किया गया…

1 min read

NEWSTODAYJ देवघर : आज सोमवारी के संजोग के साथ देवघर में सावन की पहली सोमवारी पर मंदिर का पट 4 बजे सुबह खोला गया पुजारी विनोद झा के द्वारा परंपरागत रूप से पूजा अर्चना किया गया इस दौरान प्रशासनिक विभाग से उपायुक्त नैंसी सहाय एसपी पीयूष कुमार पांडे एसडीओ विशाल सागर एसडीपीओ विकास चंद श्रीवास्तव एवं अन्य प्रशासनिक महकमे में के लोग उपस्थित थे कड़ी सुरक्षा के बीच परंपरा के अनुसार बाबा बैद्यनाथ का पूजा अर्चना 5 बजे तक सरकारी पूजा किया गया।

यह भी पढ़े…

हादसा : 407 मालवाहक वाहन से जा रहे बारात वाहन संतुलन बिगड़ने से दुर्घटनाग्रस्त , दो लोगों की मौत , काई लोग घयाल…

उसके बाद से पुरोहितों के लिए शारीरिक दूरी के साथ जलार्पण कराया गया जो 7 बजे तक चलता रहा उपायुक्त नैंसी सहाय ने बताया कि कोरोना संक्रमण को लेकर मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था की गई है मंदिर का पट सुबह 4:00 बजे खोला गया 5:00 बजे तक सरकारी पूजा हुआ उसके पश्चात तीर्थ पुरोहितों द्वारा जल अर्पण किया गया 6:30 बजे मंदिर का पट बंद कर दिया गया शाम को पुनः श्रृंगार पूजा के लिए 40 मिनट के लिए खोला जाएगा ताकि परंपरा का निर्वाह किया जा सके। इस बार का सावन तिथियों के मुताबिक काफी शुभ और फलदाई है इस बार पांच सोमवारी का संयोग है और इस बार सिद्धि योग भी बन रहा है ऐसे में बाबा भोलेनाथ की पूजा अर्चना घर में भी की जाए तो फलदाई होता है।

यह भी पढ़े…

धनबाद प्रेस क्लब को जिला प्रशासन के द्वारा किया गया सील , सदर अस्पताल में चला स्वाब जांच

जिला प्रशासन ने बाबा भोलेनाथ के शिवलिंग का ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था कर रखी थी जिसे जिला प्रशासन झारखंड सरकार के विभिन्न डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए प्रसारित किया गया अहले सुबह से ही प्रशासनिक अधिकारी मंदिर पहुंचे और पूरी विधि व्यवस्था का जायजा लिया देवघर एसपी पीयूष पांडे ने बताया कि सावन के महीने में अक्सर श्रद्धालुओं को नियंत्रित करने और सुलभ जल अर्पण करने के लिए रणनीति बनाई जाती थी लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण को लेकर श्रावणी मेले पर प्रतिबंध है ऐसे में सामाजिक दूरी का पालन कराते हुए शहर को सुरक्षित रखना मुख्य जिम्मेदारी है।

यह भी पढ़े…

डायन का आरोप लगाकर वृद्ध महिला की हत्या मामले में दो आरोपी गिरफ्तार…

जिसके लिए सभी सीमाएं सील की गई है शिवगंगा और बाबा मंदिर के सामने बैरिकेडिंग कर दी गई है बाहरी राज्यों के आने वाले श्रद्धालुओं को देवघर में प्रवेश से रोकना है देवघर डीसी ने कहा है कि पुरोहित समाज को समझाया गया है की कोरोना से संक्रमण से पुजारियों को बचाने के लिए यह महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.