• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

दिल्ली: 10वीं और 12वीं की परीक्षा रद्द होने पर पीएम मोदी बोले : छात्रों के हित में है फैसला…

1 min read

दिल्ली: 10वीं और 12वीं की परीक्षा रद्द होने पर पीएम मोदी बोले : छात्रों के हित में है फैसला…

 

NEWSTODAYJ_दिल्ली:केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड  की 12वीं की बोर्ड परीक्षा रद्द होने के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि यह फैसला व्यापक विमर्श के बाद लिया गया है और यह सर्वश्रेष्ठ तथा छात्रों के हित में है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को देशभर से मिली लोगों की महत्वपूर्ण राय के बाद छात्र हितैषी यह फैसला लिया गया है. प्रधानमंत्री ने मंगलवार को एक महत्वपूर्ण बैठक कर कोविड महामारी के समय परीक्षा को लेकर चर्चा की थी और उसके बाद सरकार ने सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा रद्द करने की घोषणा की.

यह भी पढ़ें…दिल्ली: सीबीएसई बोर्ड जुटा मूल्यांकन नीति बनाने में, 10वीं एवम 12वीं के रिजल्ट कि बना रहा मूल्यांकन नीति

इस घोषणा के बाद गुजरात, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड सहित कुछ अन्य राज्यों ने भी अपने यहां बोर्ड की परीक्षाएं स्थगित करने का ऐलान किया. कुछ राज्यों ने कहा है कि वे इस संदर्भ में जल्द ही कोई फैसला लेंगे.

छात्रों का कल्याण हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता

परीक्षा रद्द करने को लेकर ट्विटर पर कुछ लोगों की प्रतिक्रियाओं का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘स्वास्थ्य और छात्रों का कल्याण हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है.’ उन्होंने कहा कि यह साल छात्रों के लिए बहुत अस्त-व्यस्त रहा क्योंकि महामारी के कारण वे अपने घरों में सिमटकर रह गए और दोस्तों के साथ बहुत कम समय बिताने को मिला

 

मोदी ने एक ट्वीट के जवाब में लिखा, ‘जैसा कि आपने कहा, वर्तमान समय में यह सर्वश्रेष्ठ और छात्र हितैषी फैसला है.’ प्रधानमंत्री ने एक शिक्षक के ट्वीट के जवाब में कहा कि बीते एक वर्ष के दौरान शिक्षकों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें