• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

दिल्ली: किसानों को मिली राहत, गेहूं की खरीद अधिकतम स्तर पर, सरकार ने किसानों के अकाउंट में भेजे 83000 करोड रुपए…..

1 min read

दिल्ली: किसानों को मिली राहत, गेहूं की खरीद अधिकतम स्तर पर, सरकार ने किसानों के अकाउंट में भेजे 83000 करोड रुपए…..

 

NEWSTODAYJ_दिल्ली:केंद्र सरकार ने बताया कि उसने अप्रैल में शुरू हुए मौजूदा फसल मार्केटिंग वर्ष में अब तक रिकॉर्ड 418.47 लाख टन गेहूं खरीदा है, जिसपर 82 हजार 648 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं. नवंबर 2020 के अंत से दिल्ली की सीमाओं पर बैठे किसानों के विरोध के बीच गेहूं की रिकॉर्ड खरीद हासिल की गई है. किसान संघ तीन नए कृषि कानूनों को रद्द करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी दिये जाने की मांग कर रहे हैं.

 

रबी मार्केटिंग सीजन (RMS) अप्रैल से मार्च तक चलता है लेकिन अधिकांश खरीद मई-जून में होती है. एक आधिकारिक बयान में कहा गया, ‘उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, गुजरात, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में वर्ष 2021-22 के चालू रबी चिपणन सत्र के तहत गेहूं की खरीद एमएसपी पर सुचारू रूप से अभी जारी है, जैसा कि पिछले सत्रों में भी किया गया था.’

यह भी पढ़ें….दिल्ली: देश में एक बार फिर बढ़े कोरोना मामले,92596 नए केस,2219 लोगों ने तोड़ा दम

 

सरकारी खरीद से अभी तक 46 लाख किसान हुए लाभांवित

गेहूं की खरीद आठ जून तक 418.47 लाख टन की हो चुकी है, जबकि एक साल पहले इसी अवधि में 373.22 लाख टन गेहूं की खरीद हुई थी. बयान में कहा गया कि लगभग 82,648.38 करोड़ रुपये के एमएसपी मूल्य पर चल रहे खरीद अभियान से लगभग 46 लाख किसान पहले ही लाभान्वित हो चुके हैं. खरीद पूरे 2020-21 विपणन वर्ष में हासिल किए गए 389.92 लाख टन के पिछले उच्च स्तर को पार कर गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.