• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

दिल्ली:अस्पताल नही कर रहे नए मरीज भर्ती,ऑक्सीजन की किल्लत बरकरार

1 min read

दिल्ली:अस्पताल नही कर रहे नए मरीज भर्ती,ऑक्सीजन की किल्लत बरकरार

NEWSTODAYJ_दिल्ली:राजधानी में ऑक्सीजन संकट के बीच कई अस्पतालों ने नए कोरोना मरीजों को भर्ती करना बंद कर दिया है। अस्पतालों ने मजबूरी में यह फैसला किया है लेकिन इससे नए मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। राजधानी के अस्पतालों में ऑक्सीजन पहुंचाई भी जा रही है, लेकिन अचानक से बढ़ी खपत के कारण आपूर्ति पूरी नहीं पड़ रही है।

शनिवार को जीटीबी, बत्रा, सरोज, जयपुर गोल्डन, मेट्रो और सर गंगाराम आदि अस्पतालों ने मरीजों को भर्ती करना बंद कर दिया। कई छोटे नर्सिंग होम भी नए मरीज भर्ती नहीं कर रहे हैं। इन सभी अस्पतालों में हर दूसरे दिन ऑक्सीजन की कमी हो रही है। आपूर्ति के लिए ये अस्पताल सरकार से लेकर सोशल मीडिया तक गुहार लगा रहे हैं। साथ ही हल्के लक्षण वाले रोगियों से घर जाने की अपील कर रहे हैं।

पेंटामेड हॉस्पिटल में ऑक्सीजन संकट

इस बीच पेंटामेड हॉस्पिटल के मैनेजर दीपक सेठी ने देर रात कहा कि हमने रीफिल करवाने के लिए 50 सिलिंडर भेजे थे लेकिन अब तक एक भी नहीं मिला। देर रात को हमे ऑक्सीजन की किल्लत होगी। कम से कम 50 मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं। कुछ वेंटिलेटर पर भी हैं।

यह भी पढ़े।

Coronavirus:कोरोना की दूसरी लहर दिन प्रति दिन खतरनाक-देश में 3.44 लाख केस मिले, महामारी से 2620 की जान गई,,,

एम्स में एक घंटे के लिए बंद हुआ आपातकालीन विभाग

दिल्ली के सबसे बड़े अस्पताल एम्स ने भी शनिवार को नए रोगियों का दाखिला बंद कर दिया। इससे अफरातफरी मच गई। अस्पताल पहुंच रहे मरीजों को वापस किया जा रहा था। जैसे ही यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई, अस्पताल प्रशासन ने बयान जारी कर स्पष्ट किया कि मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण ऑक्सीजन का दबाव बढ़ गया था। इसे देखते हुए ऑक्सीजन पाइपों को बदलने की प्रक्रिया की गई थी। लिहाजा सिर्फ एक घंटे के लिए नए रोगियों की भर्ती को रोका गया था।

 

हर घंटे बिगड़ रहे हालात, अस्पताल नहीं ले रहे मरीज

दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाओं के हालात बेहद गंभीर हो चुके है। शुक्रवार शाम तक राजधानी के किसी भी अस्पताल में सामान्य, आईसीयू, वेटिंलेटर बेड उपलब्ध नहीं था, जबकि दिल्ली सरकार की वेबसाइट पर बेड उपलब्ध बताए जा रहे थे। सरोज सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल ने नए मरीजों को भर्ती करना बंद कर दिया है। फोर्टिस, गंगाराम और बत्रा अस्पताल ने भी ऑक्सीजन की कमी को लेकर गंभीर परिस्थितियों का सामना करने की पुष्टि की है। इनके मुताबिक, मांग के अनुरूप ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें