तीसरे दिन बाद मिला झिलिया में डूबी नैना का शव…

0
[URIS id=45547]

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले के निरसा में डूबी तीन वर्षीय बच्ची नैना काफी मसक्कत के बाद तीसरे दिन रविवार को झिलिया से मिली। आपको बता दें कि शुक्रवार को नैना ट्यूशन से पढ़कर घर आई और शौच करने बाहर गई। इसी दौरान उसका पैर फिसला और वह नाले के पानी गिर गई।चूंकि नाले में पानी का बहाव काफी तेज था और वह बह कर झिलिया में चली गई। उसके बाद लगातार परिजन,स्थानीय लोग,प्रशासन और जनप्रतिनिधि बच्ची को खोजने और झिलिया से निकालने का प्रयास करने लगे। दो दिनों तक तो कोई भी सफलता नहीं मिली। लेकिन तीसरे दिन रविवार को परिजन और स्थानीय लोगों को सफलता मिली। नैना झिलिया के जलकुंभी में फंसी हुई मिली।

यह भी पढ़े…

बॉलीवुड में कोरोना का हमला : अनुमप खेर के घर में भी पहुंचा कोरोना, मां अस्पताल में भर्ती; भाई, भाभी और भतीजी भी संक्रमित विडियो ट्वीट कर लोगो को दी जानकारी….

नैना का शव मिलने के बाद जहाँ परिजनों को थोड़ी राहत मिली वहीं नैना की माँ और परिवार के सदस्यों का रो रो कर बुरा हाल है। कुछ स्थानीय लोगों का कहना है कि आज पास के खटाल के लोगों द्वारा सड़क पर ही गोबर बहा दिया जाता है। इसी कारण से आने जाने वाले लोग सड़क किनारे बने नाले के साइड से आना जाना करते हैं। इसी क्रम में अगर किसी का पैर फिसल जाता है तो वह पानी के बहाव में बह कर झिलिया में चला जायेगा और फिर से किसी बड़ी घटना से इनकार नहीं किया जा सकता। वहीं शव मिलने के बाद कुमारधुबी और चिरकुंडा पुलिस दोनों मौके पर पहुँची और मामले की तफ्तीश में जुट गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here