• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

डायरिया से बचाओ के प्रति स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दस्त नियंत्रण पखवाड़ा चलाया गया

1 min read

(धनबाद)

डायरिया से बचाओ के प्रति स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दस्त नियंत्रण पखवाड़ा चलाया गया….!

धनबाद। डायरिया के प्रति लोगो को सचेत करने हेतु राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिले में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दस्त नियंत्रण पखवाड़ा चलाया जा रहा है28 मई से शुरू यह पखवाड़ा 9 जून तक चलाया जायेगा। इसी कड़ी में सोमवार को धनबाद के प्रेमचंद नगर में कैम्प लगाकर लोगो को डायरिया के लक्ष्ण , उससे बचाव की जानकारी दी गई। कैम्प में ओआरएस के साथ साथ दवाइयां भी लोगो में निःशुल्क वितरित की गई। इस कैम्प मे उपस्थित उपायुक्त एडोड्डे ने उपस्थित लोगो को संबोधित कर बताया कि बच्चे डायरिया से बच सके इसके लिए घर के लोगो को स्वच्छता पर ध्यान देना जरूरी है। कई बार डायरिया के प्रकोप के कारण बच्चो की मौत तक हो जाती है। कई मामलो में डायरिया से ग्रसित बच्चे का विकास रुक जाता है। इसलिए डायरिया से बचाव के लिए जो भी आवश्यक छोटी छोटी बाते है उन्हें ध्यान में रखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मॉनसून में इस बीमारी का प्रकोप बढ़ने लगता है। इस बार स्वास्थ्य विभाग कमर कस चूका है। घर घर ओआरएस एवं दवाईयां पहुचाने की पहल जिला प्रशासन कर रही है सहिया बहने इस कार्य में लगी है। नगर निगम से भी विशेष आग्रह किया गया है कि घरों के आसपास गंदगी न होने दे। डॉ0 आलोक विश्वकर्मा ने दवाई तथा ओआरएस के सेवन की जानकारी दी। उन्होंने बताया किसीं बच्चे में डायरिया के लक्षण पाये जाने पर एक लीटर पानी में ओआरएस का घोल बनाकर बच्चे को दिनभर पिलाए।NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.