टैक्स नियमों में हुआ बदलाव-जाने नए आयकर नियमों के बारे में टैक्सपेयर्स को क्या मिली राहत

टैक्स नियमों में हुआ बदलाव-जाने नए आयकर नियमों के बारे में टैक्सपेयर्स को क्या मिली राहत

NEWSTODAYJ सरकार ने नई कर व्यवस्था के तहत कर्मचारियों को नियोक्ताओं से प्राप्त यात्रा भत्ते पर आयकर से छूट का दावा करने की सुविधा दे दी हैl केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने इसके लिये आयकर नियमों में बदलाव किया हैl सीबीडीटी द्वारा किये गये संशोधन के बाद अब कर्मचारी कुछ चुनिंदा मामलों में आयकर से छूट का दावा कर सकते हैंl इन चुनिंदा मामलों में यात्रा या स्थानांतरण के मामले में आने-जाने के खर्च के लिये दिया गया भत्ता, यात्रा की अवधि के दौरान दिया गया कोई अन्य भत्ता, सामान्य कार्यस्थल से अनुपस्थिति की स्थिति में एक कर्मचारी को दैनिक खर्च पूरा करने के लिये दिया जाने वाला भत्ता आदि शामिल हैl इनके अलावा यदि नियोक्ता नि:शुल्क आने-जाने की सुविधा नहीं प्रदान कर रहे हों, तो रोजाना काम पर आने-जाने के खर्च के लिये दिये जाने वाले भत्ते पर भी आयकर से छूट का दावा किया जा सकता हैl

ये भी पढ़े…

1 करोड़ से ज्यादा हुए दुनिया में कोरोना के मरीज-5 लाख के करीब हुई मौत-जाने दुनियाभर के देशों का हाल

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2020-21 के बजट में लोगों को इनकम टैक्स की एक वैकल्पिक दर की पेशकश करते हुए नयी टैक्स इनकम टैक्स व्यवस्था का प्रस्ताव किया थाl इसके तहत 2.5 लाख रुपए तक की वार्षिक आय पर कर से छूट मिलती हैl जो व्यक्ति 2.5 लाख रुपए से 5 लाख रुपए तक कमाते हैं, उन्हें 5 प्रतिशत की दर से आयकर का भुगतान करना होगाl इसी तरह, पांच से 7.5 लाख रुपए के बीच की आय पर 10 फीसदी, 7.5 से 10 लाख रुपए के बीच की आय पर 15 फीसदी, 10 से 12.5 लाख रुपए सालाना कमाने वालों पर 20 फीसदी, 12.5 रुपए से 15 लाख रुपए की सालाना कमाई पर 25 फीसदी और 15 लाख रुपए से अधिक की आय पर 30 फीसदी टैक्स का प्रावधान हैl नयी टैक्सि व्यवस्था उन व्यक्तियों के लिये है, जो कुछ निर्दिष्ट कटौती या छूट का लाभ नहीं उठा रहे हैंl

ये भी पढ़े…

लगातार बढ़ते पेट्रोल-डीजल की कीमत पर आज लगा ब्रेक

सीबीडीटी ने यह भी स्पष्ट किया है कि अनुलाभ के मूल्य का निर्धारण करते समय नियोक्ता द्वारा पेड वाउचर के माध्यम से मुफ्त भोजन और गैर-मादक पेय के संबंध में कोई छूट नहीं मिलेगीl इसके अलावा, नेत्रहीन, मूक, बधिर अथवा हड्डियों से दिव्यांग कर्मचारी 3,200 रुपये प्रति माह के परिवहन भत्ते में छूट का दावा कर सकते हैंl

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here