• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

टार्जन मंडल को गोली में:संपत्ति कुर्की करने गई थी पुलिस, अपराधियों ने किया सरेंडर

1 min read

टार्जन मंडल को गोली में:संपत्ति कुर्की करने गई थी पुलिस, अपराधियों ने किया सरेंडर…

NEWSTODAY:टार्जन मंडल को गोली मारने के मामले में फरार अपराधियों के घर संपत्ति की कुर्की करने गई पुलिस कार्रवाई और पुलिस दबिश के कारण दो अपराधियों ने न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया. कोतवाली थाना अंतर्गत बासुदेवपुर ओपी क्षेत्र में टार्जन मंडल को विगत 16 फरवरी को गोली मार दी गई थी. जख्मी टार्जन मंडल के बयान पर बासुदेवपुर ओपी कांड संख्या 62/ 2020 प्राथमिकी दर्ज की गई थी. मामले में उत्तम मिश्रा, रंजीत डॉन, राजन पासवान, अनिल यादव, रवि मंडल और घटक पासवान को नामजद अभियुक्त बनाया गया था. पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई का निर्देश थानाध्यक्ष को दिया था. सभी अपराधी फरार चल रहे थे. पुलिस नेअपराधियों के घर की संपत्ति कुर्क करने के लिए त्वरित पहल करते हुए न्यायालय से कुर्की वारंट भी हासिल कर लिया था. इस मामले में रवि मंडल ने पहले ही सरेंडर कर दिया था. अन्य पांच अभियुक्तों उत्तम मिश्रा, रंजीत डॉन, राजन पासवान, अनिल यादव और घटक पासवान के खिलाफ न्यायालय द्वारा कुर्की वारंट जारी किया गया था. पुलिस अधीक्षक मुंगेर के निर्देश पर बासुदेवपुर ओपी की पुलिस आज उत्तम मिश्रा और अनिल यादव की संपत्ति कुर्क करने के लिए दल बल के साथ पहुंची थी. कुर्की के भय से अपराधियों ने न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया. पुलिस जब कुर्की की कार्रवाई करने के लिए पहुंची थी तो स्थानीय लोगों द्वारा बताया गया कि दोनों अपराधी सरेंडर करने न्यायालय गए हैं. न्यायालय में आत्मसमर्पण की पुष्टि कराने के बाद कुर्की की कार्रवाई रोक दी गई.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बासुदेवपुर ओपी पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ लगातार छापामारी की और पुलिस दबिश का ही परिणाम है कि गोली मारने वाले अपराधी आत्मसमर्पण कर चुके हैं. बासुदेवपुर ओपी अध्यक्ष स्वयंप्रभा को पुरस्कृत भी किया गया है ताकि अन्य पुलिस कर्मियों का भी मनोबल बढ़े और इसी तरह अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई कर सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.