• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

झारखण्ड शिक्षा मंत्री का बड़ा फैसला अब 61 हजार पारा शिक्षक हो सकेंगे स्थायी

1 min read

झारखण्ड शिक्षा मंत्री का बड़ा फैसला अब 61 हजार पारा शिक्षक हो सकेंगे स्थायी

NEWSTODAYJ – झारखंड में पारा शिक्षकों के लिए बड़ी खबर हैl आपको बतादें कि राज्‍य के पारा शिक्षक अब स्थायी हो जाएंगे। शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की अध्‍यक्षता में उच्‍च स्‍तरीय कमेटी की हुई बैठक में इस बारे में सहमति बन गई है। इसके अप्रूवल के लिए जल्‍द ही प्रस्‍ताव कैबिनेट को भेजा जाएगा। स्‍थायी होने के लिए टेट पास पारा शिक्षकों को कोई परीक्षा नहीं देनी होगी। वहीं, अन्‍य पारा शिक्षकों को लेकर महाधिवक्‍ता से राय ली जाएगी कि उन्‍हें किस आधार पर स्‍थायी किया जा सकेगा।

ये भी पढ़े..

पैसे की जरुरत है पर नहीं जाना चाहते एटीएम या बैंक,तो देर किस बात की करें ये काम, डाकिया घर आ कर देगा पैसा

राज्य में समग्र शिक्षा अभियान के तहत कार्यरत लगभग 61 हजार पारा शिक्षकों के स्थायी होने का रास्ता साफ हो गया है। मंगलवार को शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय कमेटी की देर शाम तक चली बैठक में सभी प्रशिक्षित पारा शिक्षकों को निर्धारित प्रक्रिया के तहत स्थायी करने पर सहमति बनी। इसे लेकर सारी प्रक्रियाएं पूरी करने के बाद प्रस्ताव कैबिनेट को भेजा जाएगा। बताते चले कि इन्हें सीमित परीक्षा नहीं देनी होगी। साथ ही, इन्हें बिहार की तर्ज पर 5200-20,200 का वेतनमान भी मिलेगा। ऐसे लगभग 13 हजार पारा शिक्षक हैं जिन्हें यह लाभ मिलेगा। बैठक में इसपर भी चर्चा हुई कि जो प्रशिक्षित पारा शिक्षक टेट पास नहीं हैं, उन्हें किस आधार पर स्थायी किया जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.