झारखंड में ग्रामीणों के बाद अब शहरी क्षेत्रों में उद्योगों को खोलने की छूट

झारखंड में ग्रामीणों के बाद अब शहरी क्षेत्रों में उद्योगों को खोलने की छूट

NEWS TODAY :  झारखंड में शहरी क्षेत्रों में सभी प्रकार के उद्योगों को खोलने की छूट दे दी गई है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बुधवार को इसका ऐलान किया. हालांकि राज्य के ग्रामीण और औद्योगिक क्षेत्रों में यह रियायत पहले से ही है. सिर्फ कंटेनमेंट जोन को इस छूट के दायरे से अलग रखा गया है. सरकार के इस फैसले के बाद राज्य में औद्योगिक गतिविधि में तेजी आने की उम्मीद है. इसी के साथ प्रदेश लौट रहे मजदूरों को रोजगार भी मिलेगा. वैसे सीएम ने ये पहले ही बता दिया था कि कोरोना की स्थिति को देखते हुए धीरे-धीरे लॉकडाउन में छूट दी जाएगी.

ये भी पढ़े…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

झारखण्ड में 21 नए मरीजों के साथ संक्रमितों की संख्या हुई 458

बता दें कि राज्य सरकार ने लॉकडाउन-4.0 में औद्योगिक क्षेत्रों में उद्योगों को खोलने की इजाजत दी. इससे औद्योगिक क्षेत्रों में मौजूद इकाइयां शुरू तो हुईं, लेकिन उससे जुड़ी छोटी-छोटी इकाइयों को चालू करने में परेशानी आ रही थी. कुछ दिन पहले झारखंड चेंबर ऑफ कॉमर्स के लोगों ने सीएम हेमंत सोरेन से मुलाकात की थी. उस दौरान सीएम ने उन्हें लॉकडाउन में धीरे-धीरे ढील देने का भरोसा दिलाया था. जानकारी के मुताबिक राज्य सरकार के इस ताजा फैसले से रांची की ढाई सौ से ज्यादा औद्योगिक इकाइयों को सीधा लाभ मिलेगा. राजधानी में 250 से ज्यादा छोटे और मझोले उद्योग कार्यरत हैं. इनमें रेडिमेड गारमेंट्स, बैग, मोमबत्ती और फर्नीचर से जुड़े उद्योग शामिल हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here