• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

झारखंड के 256 मुखिया PM के दौरे का करेंगे विरोध, CM के इस फैसले से हैं नाराज

1 min read

न्यूज टुडे

झारखंड बिहार




अपने आस पास के खबर हमे दे सकते है धनबद छोटे खान 9386192053।



धनबाद।

झारखंड के 256 मुखिया PM के दौरे का करेंगे विरोध, CM के इस फैसले से हैं नाराज….



धनबद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे का विरोध शुरू हो गया है। धनबाद मुखिया संघ उनके दौरे का जोरदार ढंग से विरोध करेगा। जिले में सभी नौ प्रखंड में 256 मुखिया हैं, जो आदिवासी विकास समिति और ग्राम विकास समिति के गठन का लगातार विरोध करते आ रहे हैं।

विरोध करने वाले मुखियाओं का बयान।

मुखिया संघ का मानना है कि इस समिति के गठन से उनके अधिकारों का हनन करने का प्रयास राज्य सरकार कर रही है। अब तो सरकार ने इसके लिए पीत पत्र भी जारी कर दिया है। और इसी के विरोध में लगातार आंदोलन कर रहे हैं।

पीएम मोदी के कार्यक्रम में भीड़ जुटाना जिला प्रशासन के लिए बनी टेढ़ी खीर
अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दौरा धनबाद में 25 मई को होने वाला है। ऐसे में जिले के तमाम वरीय पदाधिकारी कैसे अधिक से अधिक भीड़ प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में इकट्ठा हो इस बात को लेकर मंथन कर रहे हैं। ब्लॉक दर ब्लॉक मैराथन दौरा कर जिले के वरीय अधिकारी मीटिंग कर रहे हैं।

अलग-अलग तरीके से आदेश पारित करके प्रयास कर रहे हैं कि तमाम ग्रामीण क्षेत्र के वैसे लाभुक जो किसी भी तरह का सरकारी योजना से लाभान्वित हुए हो। उन्हें PM के कार्यक्रम में किसी भी हाल में शिरकत करवाना है। ताकि वो प्रधानमंत्री के भाषण को सुनें।

कार्यक्रम में मुखिया भी हैं आमंत्रित, पर बैठेंगे उपवास पर
इस कार्यक्रम में तमाम मुखिया को भी आमंत्रित किया गया है, लेकिन अपने पुरानी मांगों को लेकर मुखिया संघ ने सीधे तौर पर प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में शामिल होने से इनकार कर दिया है।

जिस वक्त प्रधानमंत्री वहां आम सभा को संबोधित कर रहे होंगे उस वक्त मुखिया संघ के सदस्य धनबाद के गांधी सेवा सदन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के मूर्ति के निकट उपवास पर बैठेंगे।


24 को सीएम रघुवर दास का करेंगे पुतला दहन

PM दौरे से 1 दिन पहले मुखिया संघ झारखंड सरकार के मुखिया रघुवर दास का पुतला दहन करेंगे। संघ के द्वारा इस तरह के आंदोलन का बिगुल फूंकने के बाद से ही जिला प्रशासन की मुश्किलें बढ़ गई है। क्योंकि पीएम के कार्यक्रम में किसी तरह का कोई विरोध ना हो।

अब तक की यही परिपाटी रही है, लेकिन जिस तरह से मुखिया संघ ने कर्यक्रम में ना जाकर विरोध स्वरूप उपवास की बात कही है। कहीं ना कहीं जिला प्रशासन के साथ-साथ राज्य सरकार की साख पर भी बट्टा लगने की चिंता अधिकारियों को सताने लगी है।

आज निरीक्षण भवन में बैठक के बाद जोरदार नारेबाजी और प्रदर्शन कर मुखिया संघ ने अपनी निर्णय पर एकजुटता प्रदर्शित की है। संघ के अध्यक्ष संजय महतो ने कहा कि सूबे के मुख्यमंत्री रघुवर दास पंचायत में मुखिया के रहते अलग से दो अलग-अलग समिति का गठन कर पंचायती राज अधिनियम के विपरीत जाने का काम कर रही है। उक्त समिति के बाद मुखिया का अस्तित्व ही समाप्त हो जायेगा।

हाल में मुख्यमंत्री के सचिव के द्वारा जारी हुआ पत्र के आलोक में स्पष्ट कर दिया गया है कि सरकार मनरेगा, पीएम आवास योजना, फोर्टिन फाइनेंस समेत और भी कई सारी योजनाएं हैं वह सब समिति को देने जा रही है। ऐसे में चुनकर आये मुखिया को विकास के कार्यो से अलग कर देना का सरकार का यह मकसद समझ से परे है।

PM का नहीं है कोई विरोध, बस PM तक है बात पहुंचाना
पीएम के कार्यक्रम के बहिष्कार के पीछे का मकसद इतना ही है कि पीएम को अपनी अनुपस्थिति दिखाकर यह बतलाना की राज्य में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। मुखिया की नाराजगी पीएम से नहीं वर्तमान रघुवर सरकार के द्वारा उठाये गये कदम से है।

अधिकारी कुछ भी बोलने से कर रहे परहेज
वहीं, इस मामले पर जिले के पदाधिकारी खुलकर बोलने को तैयार नहीं है लेकिन इतना जरूर कह रहे हैं कि सब कुछ ठीक हो जाएगा।

जिला पंचायती राज पदाधिकारी चंद्रजीत सिंह से जब बात की गई तो उन्होंने कैमरे के सामने आने से सीधे तौर पर इनकार कर दिया लेकिन ऑफ द रिकॉर्ड इतना जरूर कहा कि इस समिति के गठन से मुखिया का किसी भी तरह के अधिकार का हनन नहीं होने जा रहा है।

एक एजेंसी बढ़ जाएगी विकास के कार्यों में तेजी आएगी। यह बात मुखिया संघ को भी समझना पड़ेगा। वहीं, विरोध के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसा कोई जानकारी नहीं है कि मुखिया संघ पीएम के दौरे का विरोध करेगा।

रखे आप को आप के आस पास के खबरों से आप को आगेnewstodayjharkhand.com watsaap9386192053

Leave a Reply

Your email address will not be published.