झारखंड के गढ़वा में अवैध आरा मिल सील करने गई वन विभाग की टीम पर हमला, डीएफओ से हाथापाई

झारखंड के गढ़वा में अवैध आरा मिल सील करने गई वन विभाग की टीम पर हमला, डीएफओ से हाथापाई

NEWS TODAY गढ़वा जिले के मेराल थानाक्षेत्र के कजराठ गांव में अवैध आरा मिल सील करने गई वन विभाग की टीम पर मिल मालिक और उसके समर्थकों ने हमला बोल दियाl समर्थकों ने डीएफओ से हाथापाई कीl वहीं रेंजर, वनकर्मी और होमगार्ड के जवान को पीट डालाl पिटाई में रेंजर मनोज कुमार सिंह का हाथ टूट गया. वनकर्मी और जवान को गंभीर चोटें आई हैं. दोनों का सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है. हमलावरों ने वन विभाग की पांच गाड़ी को भी क्षतिग्रस्त कर दिया. बाद में सूचना पर मौके पर पहुंची मेराल थाने की पुलिस को देखकर हमलावर मौके से भाग गयेl

आपको बता दें कि दरअसल डीएफओ अरविंद कुमार गुप्ता को गुप्त सूचना मिली कि कजराठ गांव में अवैध आरा मिल चलाया जा रहा है. इसी सूचना पर डीएफओ, मेराल रेजंर और 21 वनरक्षी और होमगार्ड के जवान 8 गाड़ियों से मिल सील करने गांव पहुंचे. इस कार्रवाई में मिल मालिक एतवारू चौधरी भागने में सफल हो गया. टीम मिल को सील कर वहां मौजूद शीशम की लकड़ी वाहन में लोड करने लगीl

ये  भी पढ़े…

औरैया सड़क दुर्घटना का शिकार हुए मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये एवं घायलों को 50-50 हजार रूपये देगी झारखंड सरकार

इसी दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंचे और हमला बोल दिया. ग्रामीणों ने पत्थरबाजी करते हुए वन विभाग की टीम को दूर तक खदेड़ दिया. इस दौरान डीएफओ से हाथापाई भी की गई. वहीं रेंजर एवं अन्य लोगों को पीट डाला. ग्रामीणों ने वन विभाग की पांच गाड़ियों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया. साथ ही आरा मिल में रखी लकड़ी को भी आग लगा दी.बाद में मेराल थाने की पुलिस मौके पर पहुंची, तो ग्रामीण वहां से भाग गये. जिसके बाद मिल को सील कर लड़की को लादकर गढ़वा लाया गया. हमले में शामिल ग्रामीणों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया हैl

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here