• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

झारखंड: आपराधिक मामला घटा मुख्यमंत्री के साथ, गाली गलौज भरी मेल आई सीएम के पास…

1 min read

झारखंड: आपराधिक मामला घटा मुख्यमंत्री के साथ, गाली गलौज भरी मेल आई सीएम के पास…

 

NEWSTODAYJ_झारखंड के CM हेमंत सोरेन को एक फिर धमकी भरा मेल मिला है। ये सेक्रेटरी टू CM के ई-मेल पर भेजा गया है। इस बार जान से मारने की धमकी के साथ-साथ गाली गलौज भी है। यह चौथी बार है जब मुख्यमंत्री को ई-मेल के माध्यम से धमकी भेजा गया है। पुलिस ने ई-मेल आईडी के आईपी एड्रेस का पता लगा लिया है।

मामले की जांच

गोंदा थाना में इससे संबंधित केस दर्ज किया गया है। गोंदा थाना प्रभारी ने बताया कि एक महीने पहले CM के ई-मेल आईडी पर मेल आया था। मामले की जांच कर ली गई है। इस संबंध में असंज्ञेय मामला दर्ज किया गया है। तफ्तीश जारी है। जल्द इस संबंध में डिटेल जानकारी दी जाएगी। पुलिस की ओर से दर्ज मामले में आरोपित विक्रम गोधराई मुनेश्वर को प्राथमिकी अभियुक्त बनाया गया है।

पूरे मामले की छानबीन

ई-मेल का आईपी एड्रेस कर्नाटक का मिला है। आईपी एड्रेस के अनुसार, आरोपित विक्रम गोधराई है। उसका पता ए क्रॉस बीईएमएल, ले आउट, राजा राजेश्वरी नगर बंगलुरु कर्नाटक का मिला है। अब तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

मुख्यमंत्री को धमकी

CM हेमंत सोरेन को पूर्व में ई-मेल से तीन बार धमकी दी जा चुकी है। पिछले वर्ष आठ व 17 जुलाई और इस साल 5 जनवरी को मुख्यमंत्री को धमकी दी गई थी। तीनों ही ईमेल से संबंधित आईपी ऐड्रेस का अब तक पता नहीं चल सका है। तीनों आईपी ऐड्रेस का सर्वर जर्मनी और स्विट्जरलैंड में है। तीनों ही मामलों की जांच सीआईडी कर रही है। अब तक तीनों ई-मेल से संबंधित आईपी ऐड्रेस और अपराधियों का पता नहीं चल सका है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें