झरिया : शिक्षक संस्थानों ने झारखंड के मुख्यमंत्री का पुतला फूंका , जमकर मुर्दाबाद का नारेबाजी हुई…

0
[URIS id=45547]

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले के झरिया मे झारखंड सरकार द्वारा शिक्षक संस्थानों को खोलने की अनुमति नही मिलने से शिक्षक हुए नाराज़, मुख्यमंत्री खिलाफ फुटा आक्रोश, शुक्रवार को झरिया कोयलांचल के कोचिंग सेंटर संचालकों एवं युवा संगठन झरिया के सदस्यों ने झरिया धर्मशाला रोड में झारखण्ड सरकार के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का पुतला दहन किया, शिक्षक विकाश कुमार सिंह ने कहा कि झारखंड सरकार शिक्षा को अहमियत न देकर शराब को ज्यादा अहमियत दे रहे हैं, हेमंत की सरकार में शिक्षा का अस्तर जीरो हो गया है, बता दे की कुछ दिन पहले बोरागड़ में एक आर्थिक तंगी के कारण शिक्षक ने आत्महत्या कर ली,

यह भी पढ़े…

ब्रजपात से 3 लोग हुए गंभीर रूप से घायल , पीएमसीएच रेफर…

फिर भी झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री नींद नही टूटी,
कोचिंग सेंटर संचालकों ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण केन्द सरकार एवं झारखंड सरकार ने लॉकडाउन लगया था, इस दौरान शिक्षा संस्थान पर पूरी तरह रोक लगा दिया था, हमने भी सरकार के फैसले को साथ दिया, फिर आन लॉकडाउन वन एवं दो, झारखंड सरकार ने शराब सहित अन्य दुकाने खोलने की अनुमति दी है,

यह भी पढ़े…

चोरी के बैटरी के साथ दो युवक धराया, 4 बैटरी बरामद , अवैध शराब और जुआ का अड्डा होगा ध्वस्त…

और शोसल डिस्टेन्स की धज्जिया भी उडा जाई रही है , झारखंड सरकार की मंशा हमे ठीक नही दिखाई दे रहा है, आखिर क्यू नही कोचिंग शिक्षण संस्थानों को शुरू करने की अनुमति दिया है। लिहाजा कोचिंग सेंटर से जुड़े शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मी आर्थिक तंगी से जूझ रहे, मकान किराया सहित खाने को लाले पड़े हैं, जल्द ही झारखंड सरकार शिक्षक संस्थानों को खोलने की अनुमति दे।मौके पर प्रोफेसर एम् पी केसरी, के डी सिंह, अमित शर्मा,पृवीन गुप्ता,पी के पानडे,पंकज सिंह,सौरभ शर्मा,झूलन सिंह,विनोद गुप्ता उपस्तिथ थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here