छात्र संगठन NSUI ने UGC के खिलाफ , थाली पीटकर और काला पट्टा लगाकर विरोध प्रदर्शन किया…

0
[URIS id=45547]

NEWSTODAYJ : रांची । छात्र संगठन NSUI ने UGC के खिलाफ अनूठा विरोध प्रदर्शन किया। सदस्यों ने झारखंड की राजधानी रांची के बिरसा चौक के समीप थाली पीटकर और काला पट्टा लगाकर विरोध जताया। कार्यकर्ताओं ने यूजीसी द्वारा कोरोना काल में परीक्षा लेने एवं फीस माफी के लिए प्रदर्शन किया। झारखंड के सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों की परीक्षा को रद्द कर छात्रों को प्रोमोट करने की मांग की।

यह भी पढ़े…

JPSC की धांधली : दोबारा जांच होने पर बढ़ गये नंबर…

प्रदर्शन का नेतृत्व प्रदेश उपाध्यक्ष इंदरजीत सिंह ने किया। उन्होंंने कहा कि छात्रों द्वारा परीक्षा को स्थगित करने की मांग को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। इसे यूजीसी अनसुना कर रहा है। नींद में सोई है। इसलिए झारखंड एनएसयूआई ने सांकेतिक रूप से थाली बजाकर यूजीसी को जगाने का प्रयास किया।

यह भी पढ़े…

अमिताभ बच्चन का बंगाल हुआ शील

यूजीसी के साथ-साथ केंद्र सरकार भी छात्रों के साथ पूरी तरह अन्याय कर रही है। झारखंड के सारे विश्वविद्यालय और कॉलेजों की परीक्षा को रद्द कर छात्रों को प्रोमोट कि‍या जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को छात्रों की सभी तरह की फीस माफ कर देनी चाहिए। कोरोना काल में छात्रों पर आर्थिक संकट आया है, ऐसे में किसी तरह का शुल्क लेना ठीक नहीं होगा।

यह भी पढ़े…

तीसरे दिन बाद मिला झिलिया में डूबी नैना का शव…

श्री सिंह ने कहा कि परीक्षाएं कराना केंद्र सरकार का ‘संकीर्ण नजरिया’ है। इस फैसले से छात्रों के स्वास्थ्य पर भी बड़ा खतरा है। अगर आईआईटी बॉम्बे फाइनल इयर की एग्जाम कैंसिल कर सकता है तो बाकी विश्वविद्यालय ऐसा क्यों नहीं कर सकते हैं। आईआईटी बॉम्बे ने विकल्प के तौर पर पिछले साल के छात्रों के प्रदर्शन के आधार पर मूल्यांकन करने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़े…

धनबाद जिले में एक बार फिर से लड़कियों ने बाजी मारी…

छात्र संगठन का कहना है कि कोरोना महामारी के चलते पूरे देश के परिवारों का जीवन अस्त व्यरस्तन है। ऐसी परिस्थिति में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC), केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा तुगलकी फरमान जारी कर विश्विद्यालय को परीक्षा कराने के निर्देश दिए है। अभी छात्रों का आधे से ज्यादा कोर्स पढ़ाया जाना बाकी है।

यह भी पढ़े…

कंटेन्मेंट ज़ोन क्षेत्र में मेडिकल टीम द्वारा डोर टू डोर स्क्रीनिंग , लोग घरों में रहें जिला प्रशासन आपकी मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है…

एनएसयूआई के प्रदेश उपाध्यक्ष ने छात्रों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए जल्द से जल्द इस तुगलकी फरमान को वापस लेने की मांग की। ऐसा नहीं होने पर NSUI उग्र आंदोलन करेगा। मौके पर आकाश रजवार, प्रणव राज, अमन यादव, आकाश, हिमांशु, आमिर, अब्दुल राबनवाज, राजू, गौतम मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here