• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

चीनी ऐप के बहिष्कार के बाद बिहारी युवा ने UC Browser को टक्कर देने लांच किया ‘मैगटैप’ वेब ब्राउज़र-अबतक हो चुके हैं 10 लाख से ज्यादा यूजर

1 min read

चीनी ऐप के बहिष्कार के बाद बिहारी युवा ने UC Browser को टक्कर देने लांच किया ‘मैगटैप’ वेब ब्राउज़र-अबतक हो चुके हैं 10 लाख से ज्यादा यूजर

NEWSTODAYJ बिहार –  चीन से विवाद के बाद और भारतीय जवानों की शहादत के बाद से ही लगातार भारत में चीनी समान और ऐप्स के बहिष्कार की मांग उठने लगी हैl या यों कहे की बहुत सारी एप्स को हटा भी दीया गया हैl इसी क्रम में ऐसे में बिहारी युवाओं द्वारा बनाया गया एक खास वेब ब्राउजर/ऐप चीनी ऐप्स को चुनैती दे रहा हैl दरअसल, बिहार के तीन युवाओं ने ‘मैगटैप’ (MagTapp) नाम का वेब ब्राउज़र बनाया है, जो चाइनीज ऐप्स यूसी ब्राउज़र से बेहतर साबित हो रहा हैl इस ऐप की खासियत इसकी ‘विजुअल डिक्शनरी’ है, जिससे बड़ी आसानी से किसी भी दूसरी भाषा के शब्द का अर्थ चित्र सहित अपनी भाषा में देखा-सुना जा सकता हैl

इस एप की खासियत ये है की तीन चायनीज ऐप के अलग-अलग फीचर इस भारतीय ऐप में मिल सकते हैंl ऐप के फाउंडर की मानें तो गूगल प्ले स्टोर पर लॉन्चिंग के कुछ दिन में ही इसे 8 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका हैl फिलहाल इसकी रेटिंग 4.5 है और इसके 10 लाख से ज्यादा यूजर हैंl ‘मैगटैप’ पूरी तरह से ‘मेड इन इंडिया’ हैl मैगटैप’ एक ‘विजुअल ब्राउज़र’ के साथ-साथ डॉक्यूमेंट रीडर, ट्रांसलेशन और ई-लर्निंग की सुविधा देने वाला ऐप हैl  इस ऐप को ख़ास तौर पर देश के हिंदीभाषी स्टूडेंट्स को ध्यान में रखकर बनाया गया हैl यह ऐप अंग्रेजी के किसी भी शब्द, वाक्य या पूरे पैराग्राफ को हिंदी सहित देश की 12 भाषाओं में अनुवाद कर सकता हैl साथ ही व्हाट्सऐप, फेसबुक, मैसेंजर में भी किसी शब्द पर टैप कर उसका अर्थ जाना जा सकता हैl ऐप पर बच्चों से लेकर बैंक, रेलवे और यूपीएससी लेवल तक के कम्पटीशन एग्जाम की तैयारी करने लायक स्टडी मटेरियल टेक्स्ट और वीडियो फॉर्मेट में मुफ्त में उपलब्ध हैl

ये भी पढ़े…

रामगढ: गोला में हो रहा ताइवान का पीला तरबूज, लोग हैरान

‘मैगटैप’ का अपडेटेड वर्जन ‘मैगटैप 2.0’ लांच किया हैl अपडेट में कई सुविधाएं जोड़ी गयी हैं, जिससे यह ऐप चीन के यूसी ब्राउज़र के साथ ही गूगल के क्रोम और ओपेरा ब्राउज़र से भी बेहतर साबित होगाl उन्होंने बताया कि ऐप का ट्रांसलेशन फीचर अब 12 भारतीय भाषाओँ के साथ फ्रेंच, जर्मन, इटालियन और अरबी समेत 29 विदेशी भाषाओं में भी अनुवाद कर सकेगाl इससे भारत में हिंदी सहित कोई भी भाषा जानने वाले लोग अपने देश ही नहीं, बल्कि दुनिया भर की सभी मुख्य भाषाओं को घर बैठे सीख सकते हैंl मैगटैप ऐप बनाने वाली कंपनी ‘मैगटैप टेक्नोलॉजी’ का मुख्यालय मुंबई में है. यह कंपनी भारत सरकार के स्टार्टअप योजना से भी जुडी है. कंपनी के तीनों फाउंडर सत्यपाल चंद्रा, रोहन सिंह और अभिषेक बिहार के गया और समस्तीपुर के रहने वाले हैं. ‘मैगटैप’ को रोहन ने डिजाइन किया हैl इसके टेक्निकल पक्षों को संभालने में उनके 18 साल के भाई अभिषेक सिंह मदद करते हैंl

Leave a Reply

Your email address will not be published.