चासनाला हादसे के बाद तीन कर्मी को किया गया निलंबित

चासनाला हादसे के बाद तीन कर्मी को किया गया निलंबित

NEWS TODAY धनबाद सेल चासनाला कोलियरी दुर्घटना में प्रबंधन ने हादसे की जांच के लिए आंतरिक कमेटी बनाकर जांच रिपोर्ट आने तक कोलियरी के तीन कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है। सेल प्रबंधन की ओर से शनिवार की शाम को बताया गया कि आंतरिक जांच समिति पता लगाएगी कि हादसा कैसे हुआ। साथ ही घटना की पुनरावृत्ति रोकने का भी सुझाव देगी।

चासनाला खदान में शुक्रवार रात को घटी घटना रूफफॉल (चाल गिरने) की वजह से नहीं घटी है। इसकी पुष्टि प्रारंभिक जांच के बाद डीजीएमएस की टीम ने की है। रीजन टू के निदेशक एमडी मिश्रा के नेतृत्व डीजीएमएस टीम ने चासनाला माइंस का शनिवार को निरीक्षण किया। मिश्रा बोले कि चाल धंसने का कोई साक्ष्य नहीं है। हादसे की जांच शुरू कर दी गई है।  इधर खदान से जुड़े सूत्र ने बताया कि जहां पर घटना घटी, वहां मैनपावर को जाने की इजाजत नहीं है।

ये भी पढ़े…

कल यानि सोमवार से झारखण्ड में होगी विमान सेवा शुरू,इन राज्यों के लिए भरेंगी उड़ाने

मैनपावर को भेजा जाना लापरवाही है। कोल लोडिंग चिमनी जिसे कोल ट्यूब भी कहा जाता है, वहीं से मृत कोयलाकर्मी फंसे कोयले के साथ लोडिंग प्वाइंट में जाकर गिर गया। उक्त स्थान पर काफी कोयला रहता है, जिसे पानी के प्रेशर से लोडिंग प्वाइंट तक भेजा जाता है। बताया गया कि इस तरह की घटना पिछले 15 साल में चार बार उक्त खदान में घट चुकी है। बावजूद सुरक्षा को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई गई।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here