• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

चांद दिखने के साथ शुरू हो गया रमजान का पवित्र महिना

1 min read

चांद दिखने के साथ शुरू हो गया रमजान का पवित्र महिना

NEWS TODAY – चांद दिखने के साथ रमजान का पवित्र महिना शुरू हो चूका हैl हालांकि कोरोना महामारी के बीच रमजान का उत्साह थोडा फीका लग रहा है पर फिर भी सामाजिक दुरी के साथ सभी अपने घर में रहकर ही इस पवित्र रमजान को मना रहे हैंl बताते चले कि सऊदी अरब में चांद दिखने के बाद आज से रमजान का महीना शुरू होने का एलान कर दिया गया हैl आज शुक्रवार के दिन से सऊदी में रमजान के महीना शुरू हो चुका हैl रमजान का चांद सऊदी अरब,कुवैत,बहरीन,और युएई सहित मलेशिया, मिश्र, सिंगापुर, इंडोनेशिया और फिलिपींस में भी देखा जा चुका है और यहां माह-ए- रमज़ान के शुरुआत का एलान कर दिया गया

इस पर्व को 30 दिनों तक मनाया जाता हैl इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार 9वें महीने को रमजान मनाने की परंपरा हैl इस्लाम धर्म में इस पर्व को काफी पाक माना गया हैl इधर भारत के केरल स्थित कोझिकोड के कप्पड में चांद नजर आ गया हैl ऐसे में 24 अप्रैल से रमजान का महीना शुरु हो रहा है, जो 24 या 25 मई तक चलेगाl  भारत के इस्लामिक धर्मगुरुओं ने भी लॉकडाउन का पालन करते हुए ही रमजान में इबादत करने का संदेश दिया हैl

गौरतलब है कि रमजान हिजरी कैलेंडर का नवां महीना होता है। अल्लाह की इबादत के लिए सबसे ज्यादा पाक महीना रमजान 24 अप्रैल से शुरू होने के मौके पर दुनियाभर के मुस्लमान रोजा रखते हैं। रोजा एक ऐसा व्रत होता है जो सूरज उगने से पहले शुरू होता है औ शाम ढलने तक चलता है। शहरी सुबह का खाना होता है जो व्रत शुरू होने के पहले खाया जाता है। वहीं इफ्तार व्रत पूरा होने पर शाम के वक्त किया जाता है। इफ्तार का मतलब व्रत तोड़ना होता है। इफ्तार के रूप में ज्यादातर लोग, फल, खजूर और अंकुरित चनों का सेवन करते हैं।

रमजान के वक्त रोजा रखने वाले सभी मुसलमान पांच वक्त की नमाज पढ़ते हैंl माना जाता है कि रमजान के महीने में मन या वचन किसी प्रकार के झूठ/फरेब में नहीं पड़ना चाहिए। इबादत के साथ अल्लाह से नेकी की दुआएं की जाती हैं और गरीबों को कूव्वत के हिसाब से जकात भी किया जाता है। रमजान में सभी बड़ों के लिए रोजा करने जरूरी माना गया हैं। इसे अलावा बीमार और बच्चों के लिए कुछ राहत भी दी जा सकती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें