चक्रवाती तुुफान अम्फान को लेकर उपायुक्त ने सभी पदाधिकारियों को दिए दिशा निर्देश एवं जिलावासियों के लिए जारी किया एडवाइजरी

चक्रवाती तुुफान अम्फान को लेकर उपायुक्त ने सभी पदाधिकारियों को दिए दिशा निर्देश एवं जिलावासियों के लिए जारी किया एडवाइजरी…

संवाददाता-बबलु कुमार ।
चक्रवाती तूफान को लेकर बोकारो जिला अलर्ट मोड में, किसी भी स्थिति से निपटने के लिए आपदा प्रबंधन पूरी तैयारी में जुटा

NEWSTODAYJ:बोकारो। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग द्वारा जारी बुलेटिन में चक्रवाती तुफान अम्फान के आने की सूचना दी गयी है। मौसम विभाग के अनुसार बोकारो जिला में आज दिनांक 19 मई 2020 से लेकर 21 मई 2020 तक इसके प्रभावी होने की संभावना व्यक्त की गयी है। अतः इस तुफान से बोकारो जिले में समान्य जन-जीवन के प्रभावित होने तथा जान-माल की क्षति की संभावना को देखते हुए उपायुक्त सह-अध्यक्ष जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, बोकारो उपायुक्त मुकेश कुमार के आदेश पर जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार ने बोकारो जिला को अलर्ट रखते हुये पदाधिकारियों एवं आम लोगों के दिशा-निर्देश जारी कर दिया है। उपायुक्त ने आदेश दिया है कि चक्रवाती तुफान के कारण जिले में जन-जीवन प्रभावित होने की संभावना को देखते हुये पूरे जिले को अलर्ट पर रखा गया है इस दौरान सड़क जाम, कच्चे मकान का टुटना, वज्रपात से जान-माल की क्षति, फसल क्षति आदि की संभावना बनी रहती है जिसके लिए जिला स्तर के पदाधिकारियों को राहत शिविर के साथ-साथ आवश्यक व्यवस्था आपदा प्रबंधन के गाईडलाइन के आधार पर संबंधित विभाग द्वारा ससमय उपलब्ध कराना सुनिश्चित करना होगा। जैसे शरण-स्थली, भोजन,पानी, चिकित्सा व्यवस्था, शौचालय आदि की विशेष व्यवस्था सुनिश्चित करना होगाउपायुक्त ने आदेश दिया है कि चक्रवाती तुफान में कच्चे मकान गिर जाते हैं एवं जान माल क्षति होती है साथ ही लोगों को रहने की समस्या उत्पन्न हो जाती है, ऐसी परिस्थिति से निपटने के लिए अंचलाधिकारी पूर्व में ही शरण स्थ्लों का निमार्ण सुनिश्चित करेंगे ताकि ससमय प्रभावितों को सहयोग प्राप्त हो सके। चक्रवाती तुफान के कारण सुखे एवं कमजोर पेड़ के गिरने की संभावना बनी रहती है जिससे कभी कभी बड़ी दुर्घटना भी हो जाती है साथ ही हाई वोल्टेज का तार गिरना, यातायात बाधित होना आदि अतः वन प्रमंडल, बोकारो अपने क्षेत्रान्तर्गत इस तरह के सभी सुखे एवं कमजोर पेड़ों को चिहिन्त करते हुये जिससे जान-माल की क्षति हो अभियान चलाकर हटवाना सुनिश्चित करेंगे। उपायुक्त ने अपने आदेश में कहा कि है चक्रवाती तुफान की स्थिति में वर्षा के कारण यदि सड़क, पुल-पुलिया ध्वस्त होता है तो संबंधित विभाग तुरंत कार्रवाई कर आवागमण बहाल कराना सुनिश्चित करेंगे

यह भी पढ़े।

धनबाद के 8 सहित झारखंड के विभिन्न जिलों के 1443 श्रमिकों को लेकर मेंगलुरू से पहुंची विशेष ट्रेन

किसी भी स्थित से निपटने हेतु सभी पदाधिकारी अपने क्षेत्र अंर्तगत अपने वाले स्थलों पर सूखा राशन,प्लास्टिक की शीटें, मेडिकल किटें, तथा अन्य आवश्यक सामाग्रियों की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे ताकि प्रभावित लोगों को ससमय सामाग्री उपलब्ध कराया जा सके। उपायुक्त ने सविल सर्जन को आदेश दिया है कि जिले में संभावित तुफान को ध्यान में रखते हुये अस्पतालों एवं मेडिकल टीम को अलर्ट मोड पर रखने के साथ सभी आवश्यक तैयारियों को सुनिश्चित करेंगे।

चक्रवाती तुफान अम्फान को लेकर जिलावासियों के लिए उपायुक्त द्वारा जारी एडवाइजरी….

1. अपने समुदाय के लोगों को आनेवाले खतरों के प्रति सावधान करें

2. अपने आसपास के शरण स्थलों व वहां तक पहुंचने के मार्ग की जानकारी रखें

3. आपातकालीन किट और आवश्यक खाद्य सामग्री, दवाएं, टार्च एवं बैटरी आदि तैयार रखें

4. सुरक्षित स्थानों में पर्याप्त अनाज और पानी संग्रह रखें।

5. अपने समुदाय के लिए नकली अभ्यास, माॅक डील का आयोजन करें

6. यदि आश्रय स्थान पर नहीं जा सकते हैं तो अपने घर मजबूत भाग के अंदर रहें

7. ज्बतक आधिकारिक सूचना न मिले कि घर से बाहर जाना सुरक्षित है तबतक घर से बाहर न निकलें

8. घर लौटने के लिए निर्देशित मार्ग का ही पालन करें, घर पहुंचने की जल्दी ना करें

9. टूटी विद्युत लाइनों, क्षतिग्रस्त सड़कों और टूटे वृक्षों से सावधान रहें

10.सुखे एवं कमजोर पेड़ से सावधान रहें। चक्रवाती तुफान के कारण ऐसे पेड़ों के गिरने की संभावना बनी रहती है जिससे कभी-कभी बड़ी दुर्घटना भी हो जाती है और जान-माल की क्षति हो जाती है।

11. तुफानी वर्षा के कारण यदि दृश्यता कम हो तो वाहन चलाने का जोखिम न लें, संभव हो इण्डिकेटर/फाॅग लाइट जलाकर चलें।

12. बच्चों को नदी-नाला, तलाब, डोभा जैसे जालाशयों के समीप जाने से रोकें

13.  चक्रवाती तुफान की स्थिति में अत्यधिक वर्षा के कारण यदि पुल-पुलिया, सड़क से होकर पानी का बहाव हो रहा हो या क्षतिग्रस्त हो गया हो तो उससे होकर तबतक आवागमन न करें जबतक कि प्रशासन द्वारा आवागमन के लिए सुरक्षित घोषित न कर दिया जाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here