घायल एवं मृत श्रमिकों को ट्रकों में भेजने से आहत हुए हेमंत सोरेन-कहा यह अमानवीय एवं संवेदनहीनता की पराकाष्ठा है

घायल एवं मृत श्रमिकों को ट्रकों में भेजने से आहत हुए हेमंत सोरेन-कहा यह अमानवीय एवं संवेदनहीनता की पराकाष्ठा है

NEWS TODAY – उत्तरप्रदेश के ओरैया में हुए दर्दनाक हादसे में झारखण्ड के कई श्रमिकों की जान चली गई वहीँ मृतक एवं घायलों को घटना स्थल से झारखण्ड लाने को लेकर जैसी जानकारी मिल रही है उसी के आधार पर सूबे के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने उत्तर प्रदेश के ओरैया में सड़क हादसे में मृत श्रमिकों के पार्थिव शरीर को एक ट्रक के जरिये झारखण्ड भेजने के कृत को अमानवीय एवं संवेदनहीनता की पराकाष्ठा कहा है। दरअसल मुख्यमंत्री को तस्वीरों और वीडियो साझा कर बताया गया कि ओरैया हादसा में मरने वाले झारखंड के प्रवासियों के शवों को एक ट्रक पर बोकारो के चास स्थित घर भेजा जा रहा है। साथ में बचे लोगों का कहना है कि बर्फ की सिल्लियां पिघलने के बाद शव की स्थिति बिगड़ती जा रही है।

ये भी पढ़े…

सिमडेगा में पुलिस की नक्सलियों के साथ हुई भीषण मुठभेड़

मुख्यमंत्री ने उपायुक्त बोकारो और झारखण्ड पुलिस को निदेश दिया है कि झारखण्ड की सीमा में प्रवेश करते ही ट्रक से आ रहे घायलों का उचित इलाज सुनिश्चित करें। साथ ही मृतकों के पार्थिव शरीर को पूरे सम्मान के साथ उनके घर तक पहुँचाने का प्रबंध कर सूचित करें।

इसे लेकर मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश सरकार और बिहार के मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि झारखण्ड के घायल एवं मृत प्रवासी श्रमिकों के लिए झारखण्ड की सीमा तक परिवहन की बेहतर व्यवस्था करें। झारखण्ड की सीमा पर राज्य सरकार उनके लिए गरिमापूर्ण व्यवस्था करेगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here