गलत इंजेक्शन देने से महिला की मौत मौके से डॉक्टर फरार

0
http://newstodayjharkhand.com/wp-content/uploads/2018/05/PicsArt_05-23-01.04.13.jpgItalian Trulli

(धनबाद)

गलत इंजेक्शन देने से महिला की मौत मौके से डॉक्टर फरार…..!

धनबाद:-/डॉक्टरों की लापरवाही ने फिर एक महिला की ले ली जान मामला है सरायढेला थाना क्षेत्र के जिम्स हॉस्पिटल का जहां एक महिला को मामूली सा समस्या था पर डॉक्टरों की गलत इलाज के कारण आज उसकी मौत हो गई परिजनों की माने तो डॉक्टरों ने दिया था गलत इंजेक्शन जिसके कारण हुई महिला की मौत सरायढेला थाना क्षेत्र के जिम्स हॉस्पिटल में झरिया की रहने वाली रुखसाना खातून नामक महिला की मौत अस्पताल में तैनात चिकित्सक के द्वारा इंजेक्शन देने के बाद तड़प-तड़प कर हो गई।महिला की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा किया और डॉक्टरों पर कार्रवाई की मांग की अस्पताल में हंगामे की सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पुलिस पहुंची और स्थिति को नियंत्रण में किया।लेकिन तब तक अस्पताल के कर्मचारी और चिकित्सक फरार हो चुके थे ।परिजन बार-बार मांग कर रहे थे कि डॉक्टर को बुलाकर पूछा जाए कि आखिर मरीज को उन्होंने कैसा इंजेक्शन दिया था जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई।निजी अस्पताल में हुई महिला मरीज की मौत के बाद कांग्रेस नेता शमशेर आलम ने निजी अस्पतालों के चिकित्सा व्यवस्था पर सवालिया निशान उठाते हुए इनकी कार्यशैली की जांच की मांग करते हुए महिला की मौत के लिए जिम्मेदार डॉक्टरों एवं अस्पताल कर्मियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग की है। उन्होंने बताया कि साधारण सी हड्डी टूटने के बाद महिला को इलाज के लिए अस्पताल में लाया गया था अस्पताल में मौजूद चिकित्सक ने इंजेक्शन दिया और सलाइन लगाकर कर चले गए। उसके बाद महिला की बेचैनी बढ़ने लगी जब परिजनों ने अस्पताल कर्मियों कहा कि सीनियर डॉक्टर को बुलाया जाए तो किसी ने डॉक्टर को नहीं बुलाया और तड़प तड़प कर महिला की मौत हो गई उन्होंने यह भी कहा कि अस्पताल में सिर्फ गरीबों का शोषण किया जाता है इलाज के नाम पर पैसे ऐंठे जाते हैं ऐसे में अस्पताल के क्रियाकलापों की जांच होनी चाहिए आपको बता दें कि अस्पताल पहले से भी विवादों में रहा है क्योंकि आयुष्मान भारत से निबंधित होने के बावजूद कुछ दिन पहले एक मरीज को आयुष्मान भारत योजना के तहत इलाज करने से मना कर दिया था और अस्पताल की लापरवाही की घटना को कवर करने गए एक निजी वेब न्यूज के संवाददाता के साथ अस्पताल के चिकित्सकों एवं संचालकों के द्वारा बदसलूकी की गई थी। उस घटना की शिकायत उक्त पत्रकार के द्वारा जिले के सिविल सर्जन और उपायुक्त से करने के बावजूद प्रशासन द्वारा अस्पताल प्रबंधन पर कोई कार्यवाई नहीं की गई थी।वहीं घटनास्थल पहुंची महिला एएसआई ने बताया कि परिजनों के द्वारा घटना की शिकायत की गई है और आगे की कार्रवाई की जाएगी पूरे मामले की छानबीन में सरायढेला पुलिस जुट गई है।NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Italian Trulli
Italian Trulli

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here