क्वॉरेंटाइन सेंटर का एसडीएम ने लिया जायजा, दिए विशेष दिशा निर्देश

क्वॉरेंटाइन सेंटर का एसडीएम ने लिया जायजा, दिए विशेष दिशा निर्देश…

चतरोचट्टी अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनेगा 250 बेड का अतिरिक्त क्वॉरेंटाइन सेंटर

NEWSTODAYJ:गोमिया/राज्य में कोविड-19 के लगातार बढ़ते संक्रमण व देश के रेड जोन के 24 जिलों से आने वाले प्रवासियों तथा पूरे प्रखंड क्षेत्रों में पहुंचने वाले सभी लोगो को कोरोना से सुरक्षा हेतु बेरमो अनुमंडल प्रशासन अलर्ट पर है। मंगलवार को बेरमो एसडीएम नीतीश कुमार सिंह और गोमिया सीओ ओमप्रकाश मंडल ने चतरोचट्टी थाना क्षेत्र के सातों पंचायत के पंचायत भवनों, स्कूलों व सामुदायिक भवनों में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर में प्रवासियों को रखने की व्यवस्था का जायजा लिया। इस दौरान एसडीएम ने चतरोचट्टी पंचायत भवन में सभी संबंधित मुखियागणों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) के चलते बड़ी संख्या में गोमिया में बाहर के राज्यों से प्रवासी नागरिकों का आगमन हो रहा है और इस आगमन में संक्रमित व्यक्ति भी आ रहे है। शासन के निर्देशों को दृष्टिगत रखते हुए संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिये मुखियाओं से चर्चा करते हुए कहा कि बंगलोर, फरीदाबाद, गुजरात, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र सहित विभिन्न प्रदेशों से बाहर से आने वाले लोगों की सेहत की निगरानी करने तथा उन्हें क्वॉरेंटाइन में रखने की बात कही

रेड जोन से लौटने वाले को क्वारेंटाइन सेंटर में रखे।

एसडीएम ने कहा कि लौट रहे प्रवासियों में सबसे अधिक संख्या में महाराष्ट्र के रेड जोन वाले जिले महाराष्ट्र, ठाणे और पुणे के लोग हैं। संबंधित ग्राम पंचायत में बने पंचायत भवन, आंगनबाड़ी भवन, प्राथमिक विद्यालय, मध्य विद्यालय जिन्हें क्वारेंटाइन सेन्टर के रुप में चिन्हित किया गया है उक्त सेंटरों पर मात्र देश के रेड जोन वाले 24 जिलों से लौटने वाले प्रवासियों को ही रखा जाए बाकी अन्य जो भी स्वस्थ हैं उन्हें तत्काल मुक्त करते हुए होम क्वारेंटाइन के निर्देश दिए हैं। कहा कि गांव में बाहर से आने वाले ऐसे व्यक्ति, जिनके स्वयं के घर है और उनके घरों में पूर्व से रह रहे परिवार के सदस्यों से अलग रहने के लिये पर्याप्त स्थान या कमरों की व्यवस्था है, तो ऐसे व्यक्ति अपने घरों में ही आने के आगामी 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहेंगे। जिनके घरों में पर्याप्त स्थान या कमरों की व्यवस्था नहीं है, वे सरकारी भवनों में क्वारंटाइन में रहेंगे

यह भी पढ़े।

ऑनलाइन होम डिलीवरी के साथ ऑफलाइन भी बिकेगी झारखण्ड में शराब

60 रुपये प्रति क्वारेंटी होगा खर्च।

मुखियाओं को निर्देश देते हुए कहा कि रेड जोन से लौटने वाले सभी प्रवासियों को क्वारंटाइन सेंटर में भोजन एवं चाय-नाश्ता की व्यवस्था के लिए 60 रुपए प्रति क्वारेंटी प्रतिदिन के हिसाब से भुगतान करने की भी बात कही। उन्होंने कहा कि हर हाल में प्रवासियों को सोशल डिस्टेन्स का पालन कराना होगा। वहीं जरूरत पड़ने पर मुख्यमंत्री दीदी किचन से भी भोजन की व्यवस्था कराएं।

चतरोचट्टी अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनेगा 250 बेड का क्वारेंटाइन सेंटर।

एसडीएम श्री सिंह ने कहा कि सभी सरकारी भवनों में प्रवासियों को रखने के बावजूद भी अगर जरूरत पड़ती है तो चतरोचट्टी थाना के समीप स्थित चतरोचट्टी स्वास्थ्य केंद्र में 250 बेड का अतिरिक्त क्वारेंटाइन सेंटर को वैकल्पिक तौर पर बनाए जाने की बात कही जिसमें प्रवासियों को ठहराया जाएगा।

क्वारेंटाइन सेंटरों का किया निरीक्षण।

बेरमो एसडीएम ने इस दौरान चतरोचट्टी पंचायत भवन, उत्क्रमित मध्य विद्यालय चुट्टे, उत्क्रमित मध्य विद्यालय लोधी का भी निरीक्षण किया और प्रवासियों से मिलकर हालचाल जाना और मुखियागण को सोशल डिस्टेंसिंग स्वच्छता का आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

यह भी पढ़े।

1 जून से नहीं खुल सकेंगे झारखण्ड में सरकारी स्कूल

चतरोचट्टी में 2773 प्रवासी लौटेंगे।

एसडीएम बेरमो ने कहा कि चतरोचट्टी थाना क्षेत्र के सातों पंचायतों में कुल 2773 प्रवासी मजदूर लौटेंगे। जिनमें अधिकांश केंद्र सरकार द्वारा घोषित 24 रेड जोन जिले में रहने वाले प्रवासी हैं। जिन्हें क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा जाना है।इस दौरान चतरोचट्टी थाना प्रभारी मुकेश कुमार, चतरोचट्टी मुखिया कौलेश्वरी देवी, बड़की चिदरी मुखिया टूकन महतो, लोधी मुखिया जयनाथ महतो, हुरलुंग मुखिया पूरण महतो, चुट्टे मुखिया लता देवी, कर्री खुर्द मुखिया विद्या देवी, बड़की सिधाबारा मुखिया सोमरी देवी सहित महादेव महतो, कौलेश्वर रविदास, सुंदर रविदास, पीएसआई रोहित कुमार, एएसआई अखिलेश्वर सिंह, अनूप कुमार शर्मा व  सैट व जिला पुलिस के जवान मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here