कोरोना महामारी को देखते हुए:घर में ही अदा करें ईद की नमाज- एसडीएम

कोरोना महामारी को देखते हुए:घर में ही अदा करें ईद की नमाज- एसडीएम…

NEWSTODAYJ:बोकारो:गोमिया/ बेरमो एसडीएम नीतीश कुमार सिंह व गोमिया सीओ ओम प्रकाश मंडल ने गोमिया व तेनुघाट ओपी क्षेत्र के संभ्रात लोगों के साथ की पीस कमिटी मीटिंग लॉक डाउन के अंतर्गत त्योहारों के मद्देनजर कोविड-19 कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत सावधानी व सामाजिक दूरी के साथ मुस्लिम समुदाय के पवित्र रमजान के त्योहार मनाने का आग्रह किया। बेरमो एसडीएम सिंह ने कहा कि लॉक डाउन में त्योहारों पर खुशियां मनाने के लिए हमें ध्यान रखना होगा कि कहीं हमारी छोटी सी लापरवाही से खुशियों में बाधा ना पड़ जाए। कहा की वैश्विक माहामारी कोरोना के कारण भारत देश ही नहीं पूरा विश्व इस इस आपदा से भयंकर लड़ रहा है अतः हमे खुद को व अपने आने वाली पीढ़ी को इस महामारी से बचाना है। ईद पर लॉकडाउन के अंतर्गत अनावश्यक घर से बाहर निकलने वालों के लिए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार यदि कोई सोशल डिस्टेंसिंग या लॉक डाउन से संबंधित नियमों का उल्लंघन करता है तो उस व्यक्ति पर उचित कार्यवाही हो सकती है। बाहर से आने वाले लोगो को सामाजिक दूरी बनाते हुए क्वारंटीन रखे व किसी भी तरह की यदि कोई परेशानी हो तो थाना प्रभारी, ओपी प्रभारी या सीओ से तुरंत संपर्क करे पुलिस प्रशासन आपकी सेवा में सदैव तत्पर हैं।

ये भी पढ़े।

क्वॉरेंटाइन सेंटरों में प्रवासी मजदूरों को दिए जा रही सुविधाओं का लिया जायजा

इस दौरान बेरमो एसडीएम व गोमिया सीओ ने गोमिया इंस्पेक्टर सुजीत कुमार, गोमिया थाना प्रभारी बिनय कुमार, तेनुघाट ओपी प्रभारी विजय प्रसाद सिंह सदलबल के साथ थाना क्षेत्र के संवेदनशील क्षेत्रों यथा चटनियांबाग़, दलाल टोला, इस्लाम टोला, अक्षय्या टोला आदि क्षेत्रों में इमाम, सदर, मुखिया के साथ क्षेत्र का भ्रमण कर सभी लोगों से प्रशासन का सहयोग करने की अपील की। एसडीएम ने कहा कि आपके प्रयास के बिना हम अधूरे है। यह स्थानीय लोगों की जिम्मेदारी है कि असामाजिक लोगों की सूचना प्रशासन को दें। ताकि ऐसे लोगों पर उचित कार्यवाही हो सके। इस वक्त मुस्लिम समुदाय का जुम्मा और ईद का त्यौहार है। मुस्लिम समुदाय के लोग त्योहारों को सामाजिक दूरी के साथ खुशी से मनाएं व सतर्क रहें। त्योहार मनाने के लिए ईदगाह और मस्जिद में न जाकर घर पर ही त्योहार मनाएं। कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए आप त्योहार की बधाई देने के लिए लोगों से हाथ व गले न मिलकर बल्कि सोशल मीडिया के व्हाट्सएप, फेसबुक के माध्यम से बिना एक दूसरे से मिले आप बधाई दे सकते हैं हां परंतु इस दौरान अफवाहों से सावधान रहें। इस दौरान पीस कमेटी की मीटिंग में गोमिया सीओ ओपी मंडल ने कहा कि यह समाज हमारा है अतः समाज के प्रत्येक नागरिक की यह जिम्मेदारी है कि वह अपने समाज को इस आपदा से बचाए। जिससे हम अपनी आने वाली पीढ़ियों को एक नया कल दे। सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस का पालन करें सुरक्षित रहें और अपने आसपास के लोगों को भी सुरक्षित रखें।इसी प्रकार लॉकडाउन के चलते ईद-उल-फितर का त्यौहार शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए शुक्रवार को चतरोचट्टी थाना परिसर में थाना प्रभारी मुकेश कुमार की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक गणमान्य लोगों के बीच की गयी। थाना प्रभारी ने बैठक में आए लोगों से अमन चैन और लॉकडाउन के नियमों का पालन कर त्यौहार मनाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे मुसलमान भाई को इस बार लॉकडाउन की वजह से सेंटर में ही ईद मनानी पड़ेगी।वहीं उन्होंने जुमा की नमाज मस्जिद के बजाय घरों में ही अदा करने अपील की है। साथ ही ये भी कहा कि ग्रुप बनाकर इबादत न करें और न ही घर से बाहर निकलें, अपने-अपने घरों में रहें कोरोना वायरस से बचने के लिए यह जरूरी है। कहा कि ईद-उल-फितर के त्यौहार को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए अधिकारियों ने कमर कस ली है। वहां मौजूद करीब चार दर्जन लोगों ने शारीरिक दूरी का पालन किया। अधिकारियों ने लोगों से समस्याएं भी सुनी। लोगों ने त्यौहार के अवसर पर खान-पान, साफ-सफाई व बिजली की उचित व्यवस्था कराए जाने की मांग की।मौके पर पीएसआई अमित कुमार सिंह, रोहित कुमार, विवेक तिवारी, एसआई एके सिंह, विनय कच्छप, बाबूलाल मरांडी, अनूप कुमार शर्मा, सदर मो. समसुद्दीन अंसारी, सरपंच तैयब अंसारी, पूर्व सरपंच ऐनुल अंसारी, मो. हबीब, बाबुजान अंसारी, अल्ताफ अंसारी, गुलाम सरवर, फिरोज आलम सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here