• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

कोरोना पॉजिटिव मरीज अस्पताल के अन्दर तो डर से पैरामेडिकल स्टाफ, सेंट्रल अस्पताल के बाहर

1 min read

कोरोना पॉजिटिव मरीज अस्पताल के अन्दर तो डर से पैरामेडिकल स्टाफ सेंट्रल अस्पताल के बाहर

NEWS TODAY धनबाद  – बिना अस्त्र शस्त्र के कोई युद्ध नहीं जीता जा सकताl ठीक ऐसा ही हाल धनबाद के बीसीसीएल के केंद्रीय अस्पताल की है जहाँ के अस्पताल के पैरामेडिकल स्टाफ ने उस वक्त काम अपनी मांगों को लेकर काम का बहिष्कार कर दिया जब कोरोना पॉजिटिव मरीज को इलाज के लिए बीसीसीएल के केंद्रीय अस्पताल (परिवर्तित Covid 19 अस्पताल) लाया गयाl

ये भी पढ़े- नया बाजार वेलफेयर सोसाइटी द्वारा सोशल डिसटेन्स के नियमो के साथ:सैकड़ों जरूरत मंदों के बीच राशन और रमजान किट का वितरण

बताते चले कि इस अस्पताल में गुरुवार की शाम धनबाद जिले के पहले कोरोना पॉजिटिव मरीज को भर्ती किया गया। इसके बाद अपनी मांगों को लेकर अस्पताल के पैरामेडिकल स्टाफ ने आंदोलन छेड़ दिया है। इतना ही नहीं शुक्रवार सुबह पैरामेडिकल स्टाफ ने काम का बहिष्कार कर अस्पताल से बाहर निकल गए। फिर क्या था अस्पताल प्रबंधन सभी स्टाफ को मन मनोव्वल में जुट गएl

बता दें कि यहाँ जीवन रक्षक उपकरण सहित अन्य चीजों की कमी होने से सेंट्रल अस्पताल में कोरोना मरीज भर्ती होने के बाद पैरामेडिकल स्टाफ अपनी सुरक्षा को लेकर डर गए हैं। वे अपने लिए सुरक्षा की गांरटी चाहते हैं। इसके अलावा कोरोना पॉजिटिव मरीज आने से केंद्रीय अस्पताल के साथ ही आसपास के इलाकों के लोग भी डर गए हैं। वे पूरे इलाके को सैनिटाइज करने की मांग कर रहे हैं। वहीँ संयुक्त मोर्चा के प्रतिनिधियों ने प्रबंधन और जिला प्रशासन को कटघरे में खड़ा किया हैl उनका कहना है कि अस्पातल में कोरोना मरीज भर्ती कर दिया गया है। पैरामेडिकल स्टाफ को कोई सुविधा नहीं की जा रही है। पैरामेडिकल स्टाफ का कहना है कि उन्हें कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए कोई व्यवस्था की नहीं की गई। ऐसे में उनकी जिम्मेवारी कौन लेगाl

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें