• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

कोरोना की लड़ाई में अपनी जिम्मेवारी को सर्वोपरी रखते हुए शामिल नहीं होंगे अपने पिता के अंतिम संस्कार में योगी आदित्यनाथ

1 min read

कोरोना की लड़ाई में अपनी जिम्मेवारी को सर्वोपरी रखते हुए शामिल नहीं होंगे अपने पिता के अंतिम संस्कार में योगी आदित्यनाथ

NEWS TODAY : कोरोनावायरस जैसी महामारी के बीच योगी आदित्यनाथ के पिता का निधन हो जाने के कारण इस महामारी की लड़ाई को सर्वोपरी मानते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल न होने की बात कही हैl साथ ही उन्होंने अपनी मां और अन्य परिजनों से अपील की है कि 21 अप्रैल को हरिद्वार में होने वाले अंतिम संस्कार में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कम से कम लोग ही शामिल हों. साथ ही उन्होंने अपने माताजी से कहा है कि वे लॉकडाउन खत्म होने के बाद खुद उनके दर्शन करने पहुंचेंगेl

ये भी पढ़े- मातेश्वरी सेवा संस्थान एवं सद्भावना समाजिक सेवा संस्थान के द्वारा निगम के सफाई कर्मियों किया सम्मानित।।

बताते चले कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक पत्र लिखकर इस बात की जानकारी दी. उन्होंने लिखा, “अपने पूज्य पिताजी के कैलाशवासी होने पर मुझे भारी दुःख एवं शोक है. वे मेरे पूर्वाश्रम के जन्मदाता हैं. जीवन में ईमानदारी, कठोर परिश्रम एवं निस्वार्थ भाव से लोक मंगल के लिए समर्पित भाव के साथ कार्य करने का संस्कार बचपन में उन्होंने मुझे दिया. अंतिम क्षणों में उनके अंतिम दर्शन की हार्दिक इच्छा थी. लेकिन वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के खिलाफ देश की लड़ाई को यूपी की 23 करोड़ जनता के हित में आगे बढ़ाने का कर्तव्यबोध के कारण मैं न कर सकाl

कल 21 अप्रैल को अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में लॉकडाउन की सफलता तथा महामारी कोरोना वायरस से लड़ने की रणनीति के कारण भाग नहीं ले पा रहा हूंl पूजनीय मां, पुर्वाश्रम में जुड़े सभी सदस्यों से भी अपील है कि वे लॉकडाउन का पालन करते हुए कम से कम लोग अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में रहेंl पूज्य पिताजी की स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन करते हुए उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा हूंl लॉकडाउन के बाद दर्शनार्थ आऊंगाl  बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट  का सोमवार सुबह दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में निधन हो गया. एम्स के मुताबिक,  सुबह 10.44 पर सीएम योगी के पिता ने अंतिम सांस लीl

Leave a Reply

Your email address will not be published.