कॉमर्शियल माइनिंग के विरोध में दूसरे दिन भी हड़ताल को सफल बनाने को लेकर डटे रहे संयुक्त मोर्चा के लोग 

[URIS id=45547]

कॉमर्शियल माइनिंग के विरोध में दूसरे दिन भी हड़ताल को सफल बनाने को लेकर डटे रहे संयुक्त मोर्चा के लोग…

NEWSTODAYJ:बेरमो।  संयुक्त ट्रेड यूनियन मोर्चा की तीन दिवसीय हड़ताल का दूसरे दिन  शुक्रवार को हड़ताल का व्यापक असर दिखा। कई परियोजना में सीसीएल प्रबंधन काम चालू करने का प्रयास किया लेकिन असफल रहे। बेरमो कोयलांचल में सीसीएल की तीनो एरिया कथारा, ढोरी व बीएंडके के खदानों में काम-काज प्रभावित रहा। सभी परियोजना में कोयला का उत्पादन और रेलवे साइडिंग में रेल रैक से संप्रेषण ठप रहा। यूनियन के प्रतिनिधि सुबह से परियोजनाओं व रेलवे साइडिंग के अलावा सड़कों पर तैनात हो गए। वही सीसीएल ढोरी प्रबंधन के द्वारा ढोरी साइडिंग से रैक लोडिंग व अमलो साईड में  लोडिंग करने का प्रयास किया गया। कोयला लोडिंग किये जाने की सूचना पर  यूनियन के प्रतिनिधि ढोरी व अमलो साइडिंग पहुचे।

यह भी पढ़े।

धनबाद : शनिवार को 11 व्यक्ति होंगे कोविड-19 अस्पताल से डिस्चार्ज ,आज तीन व्यक्तियों का रिपोर्ट आया पोजिटिव…

धनबाद : शनिवार को 11 व्यक्ति होंगे कोविड-19 अस्पताल से डिस्चार्ज ,आज तीन व्यक्तियों का रिपोर्ट आया पोजिटिव…

यहां यूनियन के प्रतिनिधियों ने कोयला लोडिंग नही करने दिया। इस दौरान प्रबंधन व यूनियन के लोगो मे बहस हुई।  सीआईएसएफ व पुलिस के जवानों के साथ एमके अग्रवाल ने ढोरी क्षेत्र का दौरा किया। जीएम अग्रवाल ने कहा कि सरकार द्वारा कोयला उद्योग को जन उपयोगी सेवा घोषित किया गया है। इसलिए रैक लोडिंग किया जाय। कहा कि कोई भी व्यक्ति किसी कार्य में बाधा ना डालें अन्यथा उन पर न्याय संगत कार्यवाही की जाएगी।कहा कि हड़ताल में नुकसान ना हो इसका विशेष ध्यान रखा जा रहा है। आउट सोसिंग के जरिए ढोरी साइड प्लेटफॉर्म नंबर 1 को चालू किया गया है। यहां रैक लोडिंग चालू है। इसी तरह तारमी में भी चालू है। हड़ताल में फिलहाल नुकसान की अभी आकलन नहीं किया गया। कहा कि हड़ताल से कोयला उद्योग को नुकसान है।सीसीएल सीकेएस के महासचिव रवींद्र कुमार मिश्रा ने कहा कि जब तक केंद्र सरकार कमर्शियल माइनिंग के निर्णय को वापस नहीं लेती तब तक आंदोलन होता रहेगा।

यह भी पढ़े।

झरिया : शिक्षक संस्थानों ने झारखंड के मुख्यमंत्री का पुतला फूंका , जमकर मुर्दाबाद का नारेबाजी हुई…

झरिया : शिक्षक संस्थानों ने झारखंड के मुख्यमंत्री का पुतला फूंका , जमकर मुर्दाबाद का नारेबाजी हुई…

कहा कि सीसीएल प्रबंधन जबरदस्ती काम करने का प्रयास कर रही है।पर हमारा मजदूर हड़ताल पर अड़ी है। तीन दिन की हड़ताल पूरी तरह सफल होगा।  प्रबंधन बाहरी लोगों से काम कराना चाहती है। सीएमयू के आर उनेश ने कहा कि हम सभी मजदूर यूनियन एकजुट है। कोलियरी बंद कराने में इंटक के गिरजा शंकर पांडे, महेंद्र कुमार विश्वकर्मा, संत सिंह, श्यामल सरकार ,अरुण सिंह, शक्ति मंडल, गजेंद्र प्रसाद सिंह, सूरज महतो, जवाहर लाल यादव, विकास सिंह, अविनाश सिंह, नरेश महतो, कैलाश ठाकुर ,राजेश्वर सिंह ,गोवर्धन रविदास, बैजनाथ महतो ,कुंज बिहारी प्रसाद, अशोक अग्रवाल, विनय सिंह ,गणेश मल्लाह, जयराम सिंह  ,सुजीत घोष आदि शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here