केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन होंगे WHO एग्जिक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन होंगे WHO एग्जिक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन

NEWS TODAY भारत में कोरोनावायरस के खिलाफ जंग का नेतृत्व करने वाले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन अगले WHO एग्जिक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन होंगे. बताया जा रहा है कि स्वास्थ्य मंत्री का चुनाव 22 मई को WHO के एग्जिक्यूटिव बोर्ड की बैठक में होगा. उनका कहना है कि चुनाव कागजी औपचारिकता मात्र होगा. “यह एक पूर्णकालिक असाइनमेंट नहीं है, लेकिन डॉ हर्षवर्धन को कार्यकारी बोर्ड की द्विवार्षिक बैठकों की अध्यक्षता करनी होगीl

WHO के साउथ-ईस्ट एशिया समूह ने पिछले साल सर्वसम्मति से निर्णय लिया था कि नई दिल्ली को तीन साल की शुरुआत के लिए एग्जिक्यूटिव बोर्ड के लिए चुना जाएगा. इस बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि नई दिल्ली के उम्मीदवार शुक्रवार से शुरू होने वाले पहले वर्ष के कार्यकारी बोर्ड के अध्यक्ष होंगे. क्षेत्रीय समूहों के बीच अध्यक्ष का पद एक वर्ष के लिए रोटेशन के आधार पर निर्धारित किया जाता है.

विश्व स्वास्थ्य सभा के फैसलों को लागू करने के लिए आवश्यक 34-सदस्यीय एग्जिक्यूटिव बोर्ड के प्रमुख के रूप में, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को महानिदेशक टेडरोस एडनॉम के साथ मिलकर काम करना होगा. मालूम हो कि टेडरोस हाल ही में कोरोनावायरस पर WHO की प्रतिक्रिया को लेकर कई देशों के निशाने पर थे. मई 2021 में टेड्रोस के पांच साल के कार्यकाल के खत्म होने के बाद हर्षवर्धन एग्जिक्यूटिव बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर अगले WHO महानिदेशक को शॉर्टलिस्ट करने में भी अपनी बात रखेंगे.

ये भी पढ़े…

भारतीय रेलवे ने दी सौगात-1 जून से चलेंगी 200 नॉन एसी ट्रेनें

मंगलवार को 194 देशों की विश्व स्वास्थ्य सभा ने एग्जिक्यूटिव बोर्ड में भारत के नॉमिनी को नियुक्त करने के प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए. पूर्व स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने 2016 में WHA के इसी तरह के सत्र की अध्यक्षता की थी. ENT सर्जन हर्षवर्धन, डॉक्टर एच नकटनी की जगह लेंगे, जो कि जापान के स्वास्थ्य मंत्री के अंतरराष्ट्रीय मामलों के सलाहकार है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here