कुछ ही घंटों में चक्रवात तूफान दे सकता है दस्तक:हो जाये अलर्ट

यहाँ देखे वीडियो।

कुछ ही घंटों में चक्रवात तूफान दे सकता है दस्तक:हो जाये अलर्ट

एजेंसी:चक्रवर्ती तूफान 3 जून को दस्तक दे सकता है इसके मद्देनजर महाराष्ट्र गुजरात गोवा दमनदीप और दादर नगर हवेली अलर्ट जारी किया गया है इससे होने वाली तबाही की आशंका राज्य सरकारों ने निचले स्थानों के रहने वालों को निकालने का आदेश दिया है साथी आधा दर्जन से अधिक जिलों में नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स यानी एनडीआरएफ की 10 टीम तैनात की गई हैं निसर्ग के खतरे से निपटने के लिए कुल एनडीआरएफ की 23 टीमों को तैनात किया गया है चक्रवात मुंबई एवं पालघर के समीप पहुंच चुका है या मुंबई में समुद्र के तट पर,पहुच चुका है मुंबई में समुद्र के तट को हिट करने वाला है,मुंबई के लिए यह पहला गंभीर चक्रवात होगा

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

यह भी पढ़े।

झारखण्ड के लोहरदगा मे नक्सलियों ने बॉक्साइट माइंस में किया 5 करोड़ का नुकसान, कई गाड़ियों को फूंका

दरअसल अरब सागर पर बना कम दबाव का क्षेत्र मुंबई की ओर बढ़ रहा है।इसकी गति 11 किलोमीटर प्रति घण्टा है लेकिन इसके तूफान में बदलते ही हवा की गति 125 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है यह अभी मुम्बई से 450 किलोमीटर दूर है।चक्रवार्थी तूफान निसर्ग के खतरे को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने इससे निपटने की तैयारियों को लेकर नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी यानी एनडीए एमए के अधिकारियों और प्रभावित होने वाले राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की इस वीडियो इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उन्होंने हर संभव मदद का भरोसा दिया है।भारत मौसम विभाग विज्ञान आईएमडी ने कहा कि अरब सागर में बना कम दबाव का चित्र अगले 24 घन्टो में चक्रवात का रूप ले सकता है।विभाग ने चेतावनी दी है कि 3 जून के शाम को चक्रवाती तूफान उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात को पार कर जाएगा।जिससे भारी बारिश होने की संभावना है मौषम विभाग के मुताबिक कम दबाव का छेत्र वर्तमान में गोवा से तीन सौ किलोमीटर दूर है।वहीँ झारखंड के रांची मौषम विभाग नेविभाग केंद्र ने अच्छी बारिश होने की संभावना व्यक्त की है।रांची मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक के अनुसार अपने सही समय पर मानसून केरल पहुंच चुका है और इसके 15 दिन बाद यानी 15 जून तक मानसून झारखंड में ब्रेक करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here