कुख्यात अंतरराज्यीय गिरोह के पांच बदमाश:चार पिस्टल 22 जिन्दा कारतूस के साथ गिरफ्तार

NEWSTODAYJ: – सरायकेला पुलिस को मिली बड़ी कामियाबी । दो इंटरस्टेट गैंग के सरगना समेत पांच अपराधी पुलिस के हत्थे चढ़े। अपराधियों के पास से हथियारों चार पिस्टल 22 जिन्दा कारतूस बरामद । ,पकड़ने वाली पुलिस टीम के सदस्यों को एसपी ने दिया 25 हजार का इनाम।सरायकेला एसपी मो अर्सी ने आदित्यपुर ऑटो कैरेक्टर में प्रेस कांफ्रेंस कर एबताया क्षेत्र में लाॅक के बाद अपराध की सीम बढता जायेगा। साथ ही आपराध के तरीके मे भी बदलाव आयेगा । वही एसपी ने कहा सरायकेला- खरसावां पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। जहां जिला पुलिस ने दो कुख्यात अंतरराज्यीय गिरोह के सरगना सहित पांच अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता पायी है। साथ ही पुलिस ने इनके पास से 4 पिस्टल, जिंदा कारतूस और तीन मोटरसाइकिल भी बरामद किया है। जानकारी देते हुए एसपी मोहम्मद अर्शी ने बताया कि जिला पुलिस को लगातार सूचना मिल रही थी, कि अंतर राज्यीय कुख्यात सरगना जल्ला फिरोज और कलीम गिरोह ने आपस में सामंजस्य स्थापित कर किसी बड़ी घटना को अंजाम देने

यह भी पढ़े।

चोरों ने घर का ताला तोड़कर घर का सामान चोरी कर  हो गए चंपत

की योजना बनाई है। एसपी के निर्देश पर टीम का गठन कर दोनों गिरोह के प्लान को डीकोड करने का निर्देश दिया गया। इसी क्रममें गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी करते हुए आदित्यपुर इलाके के मुस्लिम बस्ती एच रोड से सरगना जल्ला फिरोज और कलीम को एक मोटरसाइकिल से जाने के क्रम में दबोचा गया, इनके पास से लोडेड चार पिस्तौल और कई राउंड जिंदा कारतूस बरामद किया। जिनकी निशानदेही पर मोहम्मद इरशाद, मोहम्मद दानिश उर्फ नेता जी और मोहम्मद इरफान को कपाली के डेमडूबी इलाके से गिरफ्तार किया गया। इनके पास से भी दो देसी कट्टा पुलिस ने बरामद किया है। पुलिस ने इनके तीन मोटरसाइकिल भी जप्त किए हैं।वहीं एसपी ने बताया कि दोनों गिरोह लॉक डाउन के दौरान आपस में मिल गए थे और किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे थे। उन्होंने बताया कि इनकी मंशा किसी नेता सामाजिक कार्यकर्ता या उद्यमी की हत्या करने की थी। फिलहाल उन्होंने किसी के नाम का खुलासा नहीं किया है। उन्होंने बताया कि गिरोह के और भी सदस्य हैं जिनकी तलाश की जा रही है। फिलहाल जिला पुलिस के लिए इसे बड़ी कामयाबी के रूप में देखी जा रही है। वैसे एक लंबे अरसे के बाद इतने बड़े गैंग का खुलासा हुआ है। वहीं एसपी मोहम्मद अर्शी ने गिरोह के प्लान को डी- कोड करने और अपराधियों के गिरफ्तारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पुलिसकर्मियों को 25 हजार रुपए पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की है। साथ ही डीजीपी से इन्हें प्रशस्ति पत्र दिए जाने की अनुशंसा किए जाने की बात उन्होंने कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *