• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

किस्मत की मार झेल रहे महिला को आज हाईवा ने मारी टक्कर , मौके पर ही मौत , बच्चे बेसहारा ।

1 min read

किस्मत की मार झेल रहे महिला को आज हाईवा ने मारी टक्कर , मौके पर ही मौत , बच्चे बेसहारा ।

न्यूज़ टुडे (निरंजन सिन्हा)छतरपुर/पलामू– मंगलवार की सुबह एक अनियंत्रित तेज रफ्तार हाईवा के चपेट में अा एक महिला की मौत हो गई और इस घटना में उसके तीन मासूम बचे पूरी तरह से बेसहारा हो गए। घटना सुबह करीब पांच बजे की है जब एक अनियंत्रित हाईवा ने ( वाहन संख्या जेएच03 एस 7553 ) छतरपुर – जपला मुख्य पथ पर स्थित पहाड़ी गांव के नजदीक एक भैंस को चपेट में ले लिया फिर फरार होने के क्रम में आगे जा खेंदरा ग्राम के नजदीक तीस वर्षीय महिला चिंता देवी पति धर्मेन्द्र पड़हिया को अपने जद में ले लिया जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई । वहीं टक्कर के बाद वाहन सड़क से दूर गढ़े में जा गिरी । घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने कई घंटो तक सड़क जाम कर दिया व महिला के बेसहारा बच्चो व दाह संस्कार के लिए मुआवजा की मांग करने लगे । जिसके बाद मौके पर पहुंचे छतरपुर बीडीओ व सीओ के समझाने बुझाने पर जाम हटाया गया व शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया ।

ये भी पढ़े…

कांग्रेस विधायक राजेंद्र प्रसाद सिंह का दामोदर नदी के तट पर आज होगा अंतिम संस्कार-CM सहित कई नेता हो सकते हैं शामिल

पूरी घटना में जो दुखद बात सामने आई है ओ है की महिला अति गरीब आदिम जनजाति की थी जिसका पति दिमाग हालत खराब होने से पिछले पांच वर्षों से फरार है महिला वर्तमान में अपना ससुराल छोड़ जो मायके में ही अपने स्वर्गीय पिता भिखारी पड़ाहिया के घर रहती थी घटना से इसके तीन बच्चे पूरी तरह बेसहारा हो गए ।
वहीं जानकारी के अनुसार वाहन के पुख्ता कागजात भी मौजूद नहीं है । गाड़ी का बीमा व फिटनेस दोनों फेल है।
पूरे लॉक डाउन के दौरान इस तरह की दुर्घटना में कमी आईं थीं वैसे वैसे अब मिल रही छूट के बाद लगातार ऐसी घटनाओं से लोग आए दिन रूबरू हो रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.