करोड़ों की लागत से बेकार पड़ा जीतपुर स्वास्थ्य केंद्र का कमरा आइसुलेशन वार्ड बनाने में आया काम…

करोड़ों की लागत से बेकार पड़ा जीतपुर स्वास्थ्य केंद्र का कमरा आइसुलेशन वार्ड बनाने में आया काम…

NEWS TODAY गोमो : कोरोना वायरस बीमारी से निपटने को लेकर सरकार ने पंचायत के मुखिया को सख्त निर्देश दिया कि अपने अपने पंचायत में आइसुलेशन वार्ड बना कर प्रदेश से आने वाले लोगो को आईसुलेशन वार्ड में रखने की पूर्ण व्यवस्था करें।

ये भी पढ़े- संकट के इस घडी में कुष्ठ कॉलोनी में जीवन ज्योत टीम द्वारा खाद्य पदार्थ का किया गया वितरण 

जिसके बाद गोमो दक्षिण पंचायत मुखिया राजेन्द्र सिंह तथा जीतपुर पंचायत मुखिया पिंकी देवी के पति जगरनाथ महतो के द्वारा उक्त स्वास्थ्य केंद्र में बेकार पड़े कमरा गुरुवार को अपने दर्जनों सहयोगियों की मदद से कमरा में फैले गंदगी को साफ सफाई कर पूरी तरह सैनिटाइजर कर वार्ड बनाया गया। अब उक्त कमरा दिखने में लग रहा है।कि कोई अस्पताल का कमरा है। इससे पूर्व वह कमरा में कचड़ा का अंबार पड़ा था।

बता दे कि उक्त अस्पताल निर्माण में लगभग आठ करोड़ की लागत से अस्पताल बनाया गया
बिना उद्घाटन के ही प्रखंड स्वास्थ्य प्रभारी जयंत कुमार ने अस्पताल को शिफ्ट कर दिया।जो पूरे इलाके में चर्चा का विषय रहा था।

गोमो दक्षिण पंचायत मुखिया राजेन्द्र सिंह ने बताया कि जीतपुर में 30 बेड का अस्पताल नेताजी सुभाष चंद्र बोस के नाम पर बनाया गया है लेकिन वर्षो बीत जाने पर भी आज तक इस अस्पताल का उद्घाटन नही हो सका है। लेकिन इस अस्पताल में रोगियों का इलाज जारी है।

अस्पताल में भरी गंदगी को मुखिया व उनके सहयोगियों द्वारा अस्पताल की साफ सफाई स्वयं के खर्च से की गई। अस्पताल में पानी की व्यवस्था नही रहने के कारण जीतपुर और गोमो दक्षिण मुखिया आदि काफी चिंतित है कि आइसुलेशन वार्ड में पानी की व्यवस्था कैसे की जाए।

मुखिया राजेन्द्र सिंह को आइसुलेशन वार्ड बनाने की अनुमति जिला नियंत्रण कक्ष से दिया गयाl आईसुलेशन वार्ड में फिलहाल चार-चार बैड की व्यवस्था की गई है। मौके पर जीतपुर पंचायत उप मुखिया नवीन सिंह,गोमो दक्षिण पंचायत उप मुखिया अप्पू चटर्जी,मुकेश कुमार,पंसस पति लोकेश्वर महतो,राजेश कुमार,रवि रंजन, समेत कई लोग थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here