कमजोर पड़ा निसर्ग चक्रवात पर मुंबई और गुजरात में मचाई तबाही- अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश होने की चेतावनी

कमजोर पड़ा निसर्ग चक्रवात पर मुंबई और गुजरात में मचाई तबाही- अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश होने की चेतावनी

NEWSTODAYJ – 120 किलोमीटर की रफ्तार के साथ बुधवार को महाराष्ट्र के तट पर पहुंचे निसर्ग साइक्लोन ने भयंकर तबाही मचाई. हालांकि अब मौसम विभाग का कहना है कि निसर्ग साइक्लोन कमजोर पड़ने लगा है. महाराष्ट्र के तट से टकराने के अगले तीन घंटे तक लैंडफॉल हुआ. मुंबई और गुजरात में कई जगहों पर हवाओं के साथ तेज बारिश ने काफी तबाही मचाई. राज्य में एनडीआरएफ की 21 टीम्स तैनात हैं. इसके अलावा कोस्ट गार्ड की टीम्स भी प्रभावित इलाकों में तैनात हैं.

मौसम विभाग ने मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, विदर्भ और दक्षिण मध्य प्रदेश में अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश होने की चेतावनी दी है. मछुआरों को अगले 12 घंटों के दौरान नॉर्थईस्ट अरेबियन सी और गोवा, महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तटो से दूर रहने की सलाह दी गई है.अगले 6 घंटों में महाराष्ट्र के तटों और समुद्र में काफी हलचल होगी. इसके बाद स्थिति में धीरे-धीरे सुधार होगा. दक्षिण कोंकण, गोवा और दक्षिण गुजरात की ज्यादातर जगहों पर अगले 12 घंटों में मध्यम से लेकर भारी बारिश हो सकती है.

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

ये भी पढ़े…

अब बोकारो जैविक उद्यान में नहीं सुनाई देगी शेरनी की दहाड़- शेरनी रामेश्वरी की हो गई मौत

जून को 5:30 पर महाराष्ट्र के पश्चिम विदर्भ में डीप डिप्रेशन कमजोर हो गया. आज शाम तक कम दबाव क्षेत्र (WML) में भी कमजोर पड़ जाएगा. पिछले 6 घंटों के दौरान लगभग 27 किमी प्रति घंटे की रफ्तार के साथ मध्य महाराष्ट्र का डीप डिप्रेशन उत्तरपूर्व की ओर बढ़ा है.पुणे शहर के कुछ हिस्सों में सड़कों पर लगातार बारिश के कारण जलभराव हो गयाl इस चक्रवात के कारण पुणे में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि 3 लोग घायल हुए हैं. मुलशी तहसील में करंट लगने से तीन जानवरों की भी मौत हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here