• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

उत्तर प्रदेश: कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित 3 से लेकर 18 साल तक के बच्चे, कई बच्चे हुए अनाथ

1 min read

उत्तर प्रदेश: कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित 3 से लेकर 18 साल तक के बच्चे, कई बच्चे हुए अनाथ

 

NEWSTODAYJ_उत्तर प्रदेश:देश भर में कोरोना संक्रमण के चलते प्रभावित और अनाथ होने वाले 9,346 बच्चों की जानकारी बाल स्वराज पोर्टल पर राज्यों द्वारा दी गई है। इसमें कोरोना महामारी के दौरान मार्च 2020 से मई, 2021 तक अपनों को खोने वालों में बच्चों का डाटा राज्यों द्वारा अपलोड किया गया हैं।

 

सबसे ज्यादा 8 से 13 साल के बच्चे इस महामारी से प्रभावित हुए हैं। इनकी संख्या 3,711 है। इस क्रम में 14 से 16 साल के 1,620, 16 से 17 साल के 1,712 बच्चे, चार से सात साल के बीच1,515 बच्चे और तीन साल तक के 788 बच्चे प्रभावित हुए हैं।

यह भी पढ़ें…Dhanbad news:3 जून से 18+ के लाभार्थी ले सकेंगे कोरोना प्रतिरोधक टीका: 2 जून को दोपहर 12:00 बजे के बाद करा सकते हैं स्लॉट बुक

राज्यों द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, सबसे ज्यादा अनाथ बच्चे मध्यप्रदेश में हैं, तो सबसे ज्यादा प्रभावित बच्चे उत्तर प्रदेश में हैं। मध्यप्रदेश में देश में सबसे ज्यादा 318 बच्चे अनाथ हुए, 104 बच्चे पूरी तरह से बेसहारा हो गए हैं, और कुल 712 बच्चे प्रभावित हुए। यूपी में बीते साल मार्च से इस साल 29 मई तक 2110 बच्चे महामारी की मार से प्रभावित हुए, इसमें 270 बच्चे अनाथ हुए, उनके दोनों अभिभावकों की मृत्यु हुई, 10 बच्चों को उनके माता-पिता ने त्याग दिया, 1830 बच्चों के एक अभिभावक की मृत्यु हुई। बिहार में कुल 1,327 बच्चे प्रभावित हुए हैं, इसमें 1,035 ने एक अभिभावक और 292 ने दोनों अभिभावकों को खो दिया है।

 

हरियाणा में 776 बच्चे तो हिमाचल में 473 बच्चे प्रभावित

हरियाणा में कुल प्रभावित बच्चों की संख्या 776 है, इसमें से 732 ने अपने एक अभिभावक को खोया है, 44 बच्चे पूरी तरह अनाथ हो गए। हिमाचल प्रदेश में कुल प्रभावित 473 हैं, इसमें से 89 अनाथ हैं, 473 ने अपने माता या पिता में से एक को खो दिया है।

 

कोरोना से अनाथ बच्चों की मदद करेंगी सरकारें

बता दें कि इन बच्चों की मदद के लिए केंद्र सरकार और तमाम राज्यों सरकारों ने कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद कोरोना महामारी के कारण अनाथ हो चुके बच्चों की मदद के लिए सरकारें आगे आईं हैं। हालांकि, कुछ राज्य सरकारों ने इस संबंध में सर्वोच्च न्यायालय के आदेश से पहले ही अपने स्तर पर वित्तीय मदद और सुविधाओं को घोषणा की थी। लेकिन अब लगभग सभी राज्यों में बच्चों की मदद के लिए कदम उठाए गए हैं। वहीं, केंद्र सरकार ने भी कई अहम घोषणाएं की हैं। साथ ही बच्चों को मौद्रिक सहायता और विभिन्न सुविधाएं देने का वादा किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.