• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

उत्तर प्रदेश:जहरीली शराब से 99 लोगों की मौत के बाद योगी सरकार सख्त,10 अधिकारियों का ट्रांसफर….

1 min read

उत्तर प्रदेश:जहरीली शराब से 99 लोगों की मौत के बाद योगी सरकार सख्त,10 अधिकारियों का ट्रांसफर…..

 

NEWSTODAYJ_उत्तर प्रदेश :अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से 99 लोगों की मौत के बाद योगी सरकार काफी सख्ती बरत रही है. सीएम योगी ने बड़ा एक्शन लेते हुए दस डिप्टी एक्साइज कमिश्नरों का एक साथ तबादला(Deputy Excise Commissioner Transfer) कर दिया है. एक्साइज डिपार्टमेंट की तरफ से जारी की गई लिस्ट के मुताबिक विनय कुमार सिंह को अलीगढ़ का नया डिप्टी एक्साइज कमिश्नर बनाया गया है.

 

राजेश कुमार सिन्हा (Rajesh Kumar Sinha) को मुरादाबाद भेज दिया गया है. ,साथ ही जितेंद्र बहादुर को गोरखपुर, जैनेंद्र उपाध्याय को आगरा और विजय कुमार मित्रा को लखनऊ का नया डिप्टी एक्साइज कमिश्नर नियुक्त किया गया है. इसके साथ ही सुनील मिश्रा को झांसी, लाल बहादुर मिश्रा को आजमगढ़, शैैलेंद्र कुमार राय को सहारनपुर रविंद्र कुमार को प्रयागराज और श्याम प्रकाश चौधरी को मिर्जापुर की जिम्मेदारी दी गई है.

 

यह भी पढ़ें…Crime news_Chhatisgarh: आपसी विवाद में पति ने पत्नी को आग में जलाकर मार डाला

एक साथ 514 पुलिसकर्मियों का ट्रांसफर

अलीगढ़ में बड़ी संख्या में हुईं मौतों के बाद कई अधिकारियों को पहले ही सस्पेंड कर दिया गया था. साथ ही पुलिस डिपार्टमेंट में भी बड़ा फेरबदल किया गया था. एक ही दिन में सीएम योगी ने 514 पुलिसकर्मियों का ट्रांसफर कर दिया था. अब तक पुलिस के किसी बड़े अधिकारी पर कोई सख्त कार्रवाई की खबर सामने नहीं आई है. वहीं एक साथ बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को ट्रांसफर पर कहा जा रहा है कि ये सभी पुलिसकर्मी एक ही साथ थाने में नियुक्त हुए थे और सालों में यहीं थे. आरोप है कि इनकी शराब माफियाओं के साथ सांठगाठ थी. शायद इसी वजह से जहरीली शराब धड़ल्ले से बेची जा रही थी.

 

जहरीली शराब पीने से 99 लोगों की मौत

जब कि करसुआ गांव के प्रधान ने दावा किया था कि उन्होंने ठेका बंद कराने के लेकर लिखित शिकायत दी थी, जिसके बाद भी आवकारी विभाग ने ठेके को बंद न कराने के उलट उसे क्लीन चिट दे दी थी. बतादें कि अलीगढ़ में मौतों के तांडव के बीच एसएसपी कलानिधि नाथानी ने तुरंत पुलिसकर्मियों के ट्रांसफर ऑर्डर जारी कर दिए. जहरीली शराब से हुई मौतों का मामला काफी तूल पकड़ रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.