• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

इस गांव में छः माह के भीतर 14 लोगों की मौत:पूरा गांव सदमे में:क्लिक कर पढ़े पूरी खबर

1 min read

(गढ़वा)

इस गांव में छः माह के भीतर 14 लोगों की मौत:पूरा गांव सदमे में:क्लिक कर पढ़े पूरी खबर

विवेक चौबे-गढ़वा : छः माह के भीतर 14 लोगों की मौत हो गयी।इस प्रकार लगातार मौत की बढ़ती संख्या को ग्रामीणों ने कौन सा नाम दें।क्यों हो रही ऐसी घटना कहना तो नामुमकिन है,चुकी ईश्वर की चाहत के बिना तो पेड़ के पतों को हिलना-डुलना भी मुश्किल है,किंतु यह सबसे बड़ी बात है कि आखिर इस प्रकार की घटना लगातार घट रही है,जिससे परिवार ही नहीं बल्कि पूरा गांव भी सदमे में है।जी हां,घटना है कांडी प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत ग्राम-बलियारी की।उक्त गांव में 13 मौतें होने के बावजूद मंगलवार को चौदहवें मौत भी हो गयी।उक्त गांव निवासी-जित्येन्द्र दुबे की मौत ट्रेन से कट कर हो गयी थी।उनके दशगात्र के दिन ही श्रीकांत दुबे की 50 वर्षीय पत्नी-मनोरमा देवी का क्रिया- कर्म समाप्त भी नहीं हुआ कि दशगात्र के दिन ही स्व. छोटन दुबे की 55 वर्षीया पत्नी-ललिता कुवंर की भी मौत हो गयी।मतलब यूं समझ लिया जाए कि एक दूसरे का दशगात्र समाप्त भी नहीं हो रहा कि दूसरे की मौत होती जा रही है।बता दें कि उक्त मृतिका के पति-छोटन दुबे का भी देहांत कुछ वर्ष पूर्व हो गयी थी।मृतिका अपने पीछे दो बेरोजगार पुत्र को छोड़ चली।परिजनों में तो शोक व्याप्त है ही।वहीं ग्रामीणों में भी दहशत है।गांव में हाहाकार मची है कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है।सबके जेहन में यही सवाल कौंध रहा है।

क्या कहते हैं,बिस सूत्री अध्यक्ष….

इस प्रकार मौत की लगातार घटना पर प्रखण्ड बिस सूत्री अध्यक्ष ने शोक जताते हुए कहा कि डर तो गांव में इस प्रकार सत्ता रहा है,जैसे गांव में कोई चुड़ैल का प्रवेश हो चुका है।उन्होंने कहा कि समझ नही आ रहा कि लोग करें तो क्या करें।असमय निधन हो जाने से उनके परिजन तो दुखित हैं ही किन्तु दुःख का पहाड़ जो टूट जा रहा है,इससे परिवार बिखर जा रहा है।बाल-बच्चे अनाथ हो जा रहे हैं।उनकी शिक्षा, पालन-पोषण सहित जीवन के तमाम कार्यों में बाधाएं उत्पन्न हो रही हैं।श्री दुबे का मानना है कि प्राकृतिक आपदा जैसी घटना बड़ी ही भयावह है।उन्होंने दुःख भरे शब्दों में कहा कि देवी-देवता रुष्ट हो गए या क्या हुआ कि इस गांव में लगातार मौत की मुंह मे समाते जा रहे हैं,लोग।श्री दुबे ने उक्त मृतिका के शव यात्रा व अंतिम संस्कार में शामिल हुए।रोते बिलखते परिजनों को अपनी ओर से ढांढस बंधाया।

क्या कहते हैं,झामुमो नेता….

वहीं प्रखण्ड प्रमुख सह झामुमो युवा नेता सत्येंद्र कुमार पांडेय उर्फ पिंकू पांडेय का भी मानना है कि जरूर ग्रमीणों ने कहीं न कहीं कोई भूल-चूक किया है,जिससे देवी-देवता रुष्ट हो गए हैं।उन्होंने भी लगातार हो रही मौत पर शोक व्यक्त किया।मौके पर-मंडल अध्यक्ष-श्रीकांत पांडेय,मुखिया प्रतिनिधि-सत्येंद्र साह, राजेन्द्र दुबे,अविनाश दुबे,मनीष दुबे सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.