• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

आय से अधिक संपत्ति मामले में CRPF के असिस्‍टेंट कमांडेंट पर दर्ज कि गई प्राथमिकी

1 min read

आय से अधिक संपत्ति मामले में CRPF के असिस्‍टेंट कमांडेंट पर दर्ज कि गई प्राथमिकी

NEWS TODAY रांची ::  आय से अधिक सम्पति के मामले में CBI ने अर्धसैनिक बल के एक अफसर पर शिकंजा कसते हुए मामला दर्ज कर लिया हैl प्राप्त जानकारी के अनुसार CRPF के पूर्व सहायक समादेष्टा संतोष कुमार पर आय से 54.12 लाख रुपए अधिक होने के सबूत मिले है जिसके बाद संतोष के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि, संतोष कुमार सीआरपीएफ मुख्यालय रांची में निजी सचिव के पद पर 1 अप्रैल 2013 से 31 अगस्त 2019 तक पदस्थापित रहे हैं। वह रांची के जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के सेक्टर 2 स्थित सीडी 714 में रहते हैं, मूल रूप से बिहार के बेगूसराय जिले के बरौनी थाना क्षेत्र स्थित बिहट गांव के रहने वाले हैं। संतोष कुमार पर आय से 54 लाख 12 हजार 37 रुपये अधिक होने का आरोप है।

दर्ज प्राथमिकी के अनुसार सहायक समादेष्टा संतोष कुमार ने आकलन अवधि 1 अप्रैल 2013 से 31 अगस्त 2019 तक 93 लाख 28 हजार 405 रुपए घरेलू काम पर खर्च किये और 64 लाख, 02 हजार 20 रुपये की चल-अचल संपत्ति बनाई। सूत्रों कि माने तो संतोष कुमार 1 अप्रैल 2013 से 31 अगस्त 2019 तक कुल एक करोड़ 3 लाख 18 हजार 288 रुपये कमाए। इस अवधि में उन्होंने एक करोड़ 57 लाख 30 हजार 425 खर्च किये। इस प्रकार उन्होंने आय से 54 लाख 12 हजार 37 रुपये अधिक खर्च किए हैं, जो आय से अधिक है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.