अब झारखण्ड के 8 जिलों में मनरेगा के तहत मजदूरों को दिया जाएगा रोजगार- ग्रामीण विकास सचिव

अब झारखण्ड के 8 जिलों में मनरेगा के तहत मजदूरों को दिया जाएगा रोजगार- ग्रामीण विकास सचिव

NEWSTODAYJ – झारखण्ड आए प्रवासी के लिए आर्थिक स्थिति को बनाए रखना सबसे बड़ी चुनौती हैl वहीँ झारखण्ड सरकार भी इसे लेकर काफी प्रयासरत हैl खबर के अनुसार मनरेगा के तहत आठ जिलों में अभियान चला कर मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा। ग्रामीण विकास सचिव आराधना पटनायक ने इस संबंध में जिलों को आदेश दिया है। उन्होंने कहा है कि जिस अनुपात में मनरेगा मजदूर लौटे हैं, उस अनुपात में प्रवासियों का पंजीकरण नहीं हुआ है। इसलिए जिलों के अधिकारी अभियान चला कर रोजगार दें। साथ ही उन्होंने चार जिलों में मशीन से काम होने की शिकायत मुख्यालय से कराने का भी निर्देश दिया।

बताते चले कि राज्य के आठ जिले गिरिडीह, हजारीबाग, पलामू, गढ़वा, कोडरमा, पाकुड़, चतरा और साहिबगंज में मनरेगा के तहत प्रवासी मजदूरों का पंजीकरण कम हुआ है। इन जिलों में भारी संख्या में प्रवासी मजदूर पहुंचे हैं। ग्रामीण विकास सचिव ने आठों जिला के उप विकास आयुक्त को जिला के प्रत्येक राजस्व गांव में कम-से-कम पांच योजनाएं संचालित करने का निर्देश दिया। साथ ही प्रतिदिन प्रति पंचायत कम-से-कम 250 मजदूरों को नियोजन करने के लिए कहा है।
इसके अलावा राज्य के चार जिले कोडरमा, गिरिडीह, गढ़वा और दुमका से पिछले एक सप्ताह से मनरेगा का काम मशीन से करवाने की शिकायत मिली है।Mgnrega Wages Increased - आए अच्छे दिन बढ़ी ...

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

जिसे गंभीरता से लेते हुए उन्होंने निर्देश दिया है कि किसी भी हाल में मनरेगा का काम मशीन से नहीं होगा। इस संबंध में पिछले दिनों आदेश जारी किया गया है। उन्होंने जिलों के उप विकास आयुक्तों को कहा कि अगर इस तरह की शिकायत फिर मिली, तो मुख्यालय से टीम भेज कर जांच कराई जाएगी और इस मामले में उन्हें भी दोषी मानते हुए कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने सख्त हिदायत दी है कि वास्तविक मजदूरों का नाम ही दर्ज होना चाहिए। अगर किसी भी तरह के मामले के संज्ञान में आते हैं तो  दोषी व्यक्ति के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़े…

कोरोना पॉजिटिव मिले मरीज के क्षेत्र में उपायुक्त एवं एसएसपी ने मुआयना कर बैरिकेडिंग कर कंटेनमेंट और बफर जोन बनाने के दिए निर्देश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here